DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बनारस में तीन दिवसीय प्रवासी भारतीय सम्मेलन आज से

तीन दिवसीय प्रवासी भारतीय सम्मेलन की तैयारी पूरी हो चुकी है। सोमवार सुबह नौ बजे बड़ालालपुर स्थित ट्रेड फेसिलिटी सेंटर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज इसका औपचारिक शुभारंभ करेंगी। बनारस में पहली बार आयोजित हो रहे इस सम्मेलन में दुनिया के 75 देशों के करीब तीन हजार प्रवासी मेहमान शामिल हो रहे हैं। इनमें मॉरीशस, त्रिनिडाड, फिजी, सऊदी अरब, कनाडा, यूएसए, यूके, मलेशिया, जर्मनी, फ्रांस समेत कई देशों के ज्यादातर प्रवासी मेहमान काशी पहुंच चुके हैं। इस बार सम्मेलन की थीम ‘नए भारत के निर्माण में प्रवासी भारतीयों की भूमिका’ है। 

सम्मेलन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविद, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, मॉरीशस के पीएम प्रवींद जगन्नाथ्, नार्वे के सांसद हिमांशु गुलाटी, न्यूजीलैंड के सांसद कंवलजीत सिंह बख्शी, राज्यपाल राम नाईक, सीएम योगी आदित्यनाथ, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह, ब्रिटेन में हाउस ऑफ लार्ड्स के सदस्य लार्ड राजेन्दर पॉल लुंबा, अन्तर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष की मुख्य अर्थशास्त्री गीता गोपीनाथ, हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर, उत्तरांचल के सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत, केन्द्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार, सूबे के उद्योग मंत्री सतीश महाना समेत कई राज्यों के मुख्यमंत्री व केन्द्रीय मंत्री शामिल होंगे। संबंधित विशिष्टजन के कार्यक्रम में शामिल होने की जानकारी प्रशासन को मिल चुकी है। 
 दूसरे दिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रवींद जगरनाथ सम्मेलन का शुभारंभ करेंगे। जबकि तीसरे दिन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद दुनिया में भारत का नाम रोशन कर रहे प्रवासियों को सम्मानित करेंगे। 

रिश्तों की नई इबारत लिखेगा प्रवासी सम्मेलन

सुषमा, खट्टर और राठौर काशी पहुंचे 
सम्मेलन में शामिल होने के लिए रविवार देर शाम विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर, केन्द्रीय खेल एवं युवा कल्याण राज्यमंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर, विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह आदि मंत्री बनारस पहुंच गए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं राज्यपाल राम नाईक सोमवार सुबह बनारस पहुंचेंगे। 
सम्मेलन स्थल के आसपास सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। 400 सीसीटीवी कैमरे से कार्यक्रम स्थल पर निगरानी की जा रही है। अर्द्धसैनिक बलों के साथ 13 हजार जवानों की तैनाती की गई है। प्रवासियों के ठहरने के लिए अत्याधुनिक स्विस काटेज बनाये गये हैं। टेंट सिटी से कार्यक्रम स्थल तक प्रवासियों के आवागमन की सुविधा को देखते हुए रिंग रोड एवं सिंधोरा मार्ग आम लोगों के लिए पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया गया है। प्रवासियों को टेंट सिटी में बने अत्याधुनिक स्विस काटेज, होटलों एवं निजी घरों में ठहराया गया है। प्रवासियों के स्वागत में पूरी काशी सजी हुई है। घाटों पर सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित हैं। प्रवासी मेहमान गंगाघाटों के साथ ही गंगा आरती एवं श्रीकाशी विश्वनाथ का दर्शन करेंगे। 22 जनवरी को फिल्म अभिनेत्री एवं सांसद हेमा मालिनी नृत्य नाटिका प्रस्तुत करेंगी। 

 

प्रवासी सम्मेलन :  बदल रहा है भारत, अभी और बदलेगा - वीके सिंह

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Three-day Pravasi Bharatiya Sammelan in Benaras today