DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईआईटी बीएचयू: सुपर कंप्यूटर करेगा मौसम की सटीक भविष्यवाणी

प्रतीकात्मक तस्वीर

आईआईटी बीएचयू जल्द ही सुपर कम्प्यूटर की सुविधा से लैस होगा। राष्ट्रीय सुपरकंप्यूटिंग मिशन के तहत आईआईटी बीएचयू का चयन किया गया है। इसके अन्तर्गत संस्थान में 500 टेराफ्लाप क्षमता का सुपरकंप्यूटर स्थापित किया जाएगा। इससे मौसम की सटीक भविष्यवाणी और दवाओं के निर्माण में सहायता मिलेगी। साइबर अपराधों पर अंकुश लगाने में भी मदद मिलेगी। 

आईआईटी के असिस्टेंट रजिस्ट्रार गंगेश शाह गोंडवाना ने बताया कि सुपरकंप्यूटिंग मिशन के तहत पूरे देश में 70 शैक्षणिक एवं अनुसंधान संस्थानों का चयन किया गया है। इसमें प्रदेश के दो संस्थान-आईआईटी कानपुर व आईआईटी बीएचयू चयनित हुए हैं। इसके तहत संस्थान में सुपरकंप्यूटर स्थापित होगा। इसके बाद एक वर्ष में देश के सभी 70 संस्थानों को फाइबर ऑप्टिकल से जोड़कर राष्ट्रीय सुपरकंप्यूटिंग ग्रिड बनायी जाएगी। यह ग्रिड भारत सरकार के दूसरे कार्यक्रम राष्ट्रीय ज्ञान नेटवर्क (एमकेएन) से भी जोड़ी जाएगी।  

मौसम की होगी सटीक भविष्यवाणी 
सुपर कंप्यूटिंग तकनीक से देश में जलवायु माडलिंग और मौसम की भविष्यवाणी प्रति घंटे की जा सकेगी। वहीं भूकंप और सुनामी का विश्लेषण भी आसानी से होगा। साथ ही गंभीर बीमारियों की दवाओं के निर्माण में सहायता मिलेगी। इससे दवाएं सस्ती भी होंगी। 

साइबर क्राइम पर रोक लगाने में होगी सहायक
सुपरकम्प्यूटर से साइबर क्राइम की पहचान और क्राइम करने वालों की धरपकड़ में भी सहायता मिलेगी। साथ ही राष्ट्रीय सुरक्षा के मद्देनजर देश की सीमा पर आतंकवाद और घुसपैठ नियंत्रण के लिए सेंसर बनाने में भी मदद मिलेगी। 

संस्थान के छात्रों को मिलेगा यह फायदा
गंगेश शाह गोंडवाना ने बताया कि वर्तमान में विभिन्न मल्टीनेशनल कंपनियों में सुपर कंप्यूटर विशेषज्ञों की आवश्यकता है। इसको देखते हुए इस विषय का पाठ्यक्रम भी तैयार किया गया है। सुपर कंप्यूटिंग सुविधा शुरू होते ही छात्रों का प्रशिक्षण भी शुरू कर दिया जाएगा। साथ ही इससे छात्रों को शोध में भी आसानी होगी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Supercomputer accurate forecast of weather