DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  वाराणसी  ›  स्मार्ट सिटी कंपनी संभालेगी ‘रुद्राक्ष का प्रबंधन
वाराणसी

स्मार्ट सिटी कंपनी संभालेगी ‘रुद्राक्ष का प्रबंधन

हिन्दुस्तान टीम,वाराणसीPublished By: Newswrap
Mon, 31 May 2021 11:10 PM
स्मार्ट सिटी कंपनी संभालेगी ‘रुद्राक्ष का प्रबंधन

वाराणसी। कार्यालय संवाददाता

वाराणसी कन्वेंशन सेंटर ‘रुद्राक्ष का प्रबंधन स्मार्ट सिटी कंपनी संभालेगी। सोमवार को कमिश्नरी सभागार में हस्तांतरण प्रक्रिया पूरी की गई। कमिश्नर व वाराणसी स्मार्ट सिटी के अध्यक्ष दीपक अग्रवाल की अध्यक्षता में सीपीडब्ल्यूडी के एक्सईएन व प्रोजेक्ट निदेशक विनय तिवारी ने सीईओ/ नगर आयुक्त गौरांग राठी व स्मार्ट सिटी के जीएम डॉ. डी वासुदेवन को दस्तावेज सौंपे।

भारत-जापान की दोस्ती के प्रतीक कन्वेंशन सेंटर की नींव वर्ष-2015 में रखी गई थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व जापान के तत्कालीन प्रधानमंत्री शिंजो अबे के बीच रुद्राक्ष को लेकर समझौता हुआ था। दिसंबर 2015 में बनारस दौरे पर आए जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे ने भारत को यह तोहफा देने की घोषणा की थी। इसी वर्ष अप्रैल में रुद्राक्ष के उद्घाटन की योजना बनी थी लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण इसकी तारीख आगे बढ़ाई गई है।

जापान सरकार ने 186 करोड़ रुपये से इस प्रोजेक्ट का निर्माण कराया है। जापानी कंपनी फुजिता कॉरपोरेशन के विशेषज्ञों ने रुद्राक्ष की डिजाइन से लेकर सभी निर्माण कार्य पूरे किए हैं। प्रोजेक्ट हेड मित्सुगु तबाता के निर्देशन में कन्वेंशन सेंटर का निर्माण करीब तीन साल में पूरा हुआ है। तीन एकड़ क्षेत्रफल में कन्वेंशन सेंटर शिवलिंग के आकार में बना है। इसमें 108 रुद्राक्ष (अल्यूमिनियम व अन्य धातु के मिश्रण से बने) लगाए गये हैं। सेंटर में 1200 लोगों के बैठने के लिए मल्टीपरपज हॉल है। इसमें वियतनाम से मंगाई गई कुर्सियां लगी हैं। इसके अलावा 150 लोगों के बैठने की क्षमता का मीटिंग हॉल भी है जिसे सुविधा के अनुसार दो भागों में विभाजित किया जा सकता है। एक वीआईपी कक्ष, चार ग्रीन रूम के अलावा दिव्यांगों की सुविधा की दृष्टि से जगह-जगह रैंप, व्हीलचेयर की व्यवस्था है। रुद्राक्ष की एक खासियत यह भी है कि इसकी दीवारों पर बनारस की मिट्टी से बनी ईंटें लगी हैं जो एक से डेढ़ डिग्री तक तापमान नियंत्रित करती हैं।

सीपीडब्ल्यूडी ने सौंपी चाबी

सीपीडीबल्यूडी ने रुद्राक्ष की ड्राइंग, फ्लोर प्लान, उपकरणों की सूची, अनुमोदन, परिसर की चाबी समेत अन्य विवरण वाराणसी स्मार्ट सिटी को सौंपा। इस दौरान फुजिता कॉर्पोरेशन से मणिकंदन, सीपीडल्यूडी के एक्सईएन जितेंद्र सिंह, पुनीत पांडेय, सुमन रॉय, एके गुप्ता, अरुण मिश्रा आदि मौजूद थे।

जापानी पार्क आकर्षण

सेंटर में जापानी पार्क विकसित किया गया है। इसमें डिजाइनर पत्थरों के साथ पौधे खास तरह से लगे हैं। सेंटर में सौर ऊर्जा का उपयोग भी किया जाएगा।

120 कारों की पार्किंग

सेंटर के बेसमेंट में 120 कारों की पार्किंग हो सकती है। शहर के मध्य इतने ज्यादा वाहनों की एक साथ पार्किंग की सुविधा अब तक किसी परिसर में नहीं है। सुरक्षा की दृष्टि से कन्वेंशन सेंटर में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।

नंबर गेम-

186 करोड़ रुपये लागत है प्रोजेक्ट की

2018 की जुलाई से निर्माण कार्य शुरू हुआ था

03 एकड़ क्षेत्रफल में फैला है रुद्राक्ष परिसर

संबंधित खबरें