DA Image
11 जनवरी, 2021|6:42|IST

अगली स्टोरी

संस्कृत विवि : फिर खुलेगी सुरक्षा घोटाले की फाइल

default image

वाराणसी। वरिष्ठ संवाददाता

संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय में सुरक्षा घोटाले से संबंधित फाइल के फिर खुलने की संभावना है। विश्वविद्यालय के कुलसचिव ने इस मामले की जांच के लिए गठित समिति की रिपोर्ट और कागजात अपने पास मंगा लिया है। जांच समिति ने 2019 में रिपोर्ट सौंप दी थी। रिपोर्ट में अनियमित तरीके से भुगतान की बात मानी गई है।

जांच समिति ने अनियमित भुगतान के लिए लेखानुभाग की लापरवाही को जिम्मेदार माना था। सुरक्षा घोटाले से जुड़ी पत्रावली पहले प्रॉक्टर आफिस में रखी गई थी। परिसर की सुरक्षा व्यवस्था के लिए वर्ष 2016 में विश्वविद्यालय का एक निजी एजेंसी से बीच करार हुआ था। करार के मुताबिक सुरक्षा एजेंसी को आयकर काट कर भुगतान किया जाना था मगर आयकर की कटौती किए बगैर सुरक्षा एजेंसी को 12 लाख आठ हजार 367 रुपये का भुगतान कर दिया गया। जांच समिति ने अपनी रिपोर्ट में अन्य वित्तीय अनियमितता भी उजागर की थी। एजेंसी के फोटो स्टेट बिल में कटिंग, सक्षम अधिकारी का दस्तखत न होने समेत अन्य बिंदुओं पर सवाल उठा गया था। रिपोर्ट के मुताबकि सुरक्षा संविदा कर्मियों की लगातार तीन शिफ्टों में ड्यूटी दर्शायी गई है जबकि एक ही व्यक्ति से 24 घंटे ड्यूटी लेना संभव नहीं है। इस पर आडिट विभाग पहले ही आपत्ति जता चुका है। अब प्रकरण की फिर पड़ताल होने की संभावना है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Sanskrit University Security scam will open again