Tuesday, January 18, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश वाराणसीबीएचयू में ब्लैक फंगस के मरीजों पर होगा शोध

बीएचयू में ब्लैक फंगस के मरीजों पर होगा शोध

हिन्दुस्तान टीम,वाराणसीNewswrap
Thu, 08 Jul 2021 03:30 AM
बीएचयू में ब्लैक फंगस के मरीजों पर होगा शोध

वाराणसी। कार्यालय संवाददाता

चिकित्सा विज्ञान संस्थान (आईएमएस) बीएचयू का मेडिसिन विभाग की टीम 80 मरीजों पर ब्लैक फंगस के पनपने के कारणों पर शोध करेगी। टीम यह जानने का प्रयास करेगी कि इसकी वजह इंडस्ट्रियल ऑक्सीजन, स्टेरॉयड है या कुछ और।

सर सुंदरलाल अस्पताल में प्रतिदिन ब्लैक फंगस से पीड़ित एक-दो मरीज भर्ती हो रहे हैं। यहां अब तक 238 मरीज आ चुके हैं। इसमें मात्र 25 डिस्चार्ज हुए हैं। ब्लैक फंगस के पीछे अब तक इंडस्ट्रियल ऑक्सीजन और स्टेरॉयड को अहम कारण माना जा रहा है, लेकिन बीएचयू भर्ती कई मरीज ऐसे हैं जिन्हे संक्रमण के दौरान हल्का बुखार आया और उन्होंने कालपॉल या पैरासिटामॉल की टैबलेट ली। इसके बाद वे ब्लैक फंगस की चपेट में आ गए। ऐसे में केस को लेकर डॉक्टर हैरत में हैं।

आईएमएस के मेडिसिन विभाग के डॉ. अरुण कुमार सिंह ने कहा कि शोध शुरू हो गया है। 80 मरीजों पर ये शोध किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पहली बार इस तरह से फैले म्यूकर माइकोसिस की वजह जानना जरूरी है। पीड़ितों की हिस्ट्री बनेगी। उन्हें कौन-कौन सी दवाइयां दी गईं।

epaper
सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें