DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पद्म पुरस्कार के लिए डा. राजेश्वर आचार्य समेत चार की संस्तुति

डॉ. राजेश्वर आचार्य

विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाले शहर की चार विशिष्ट विभूतियों को पद्म पुरस्कार देने की संस्तुति की गई है। कमिश्नर की ओर से भेजी गई सूची में गायन, वादन, शिक्षा और साहित्य से जुड़े लोगों को जगह दी गई है। पद्म पुरस्कारों की घोषणा 26 जनवरी को होगी। 

बीते दिनों जिलाधिकारी योगेश्वर राम की अध्यक्षता में गठित जिला समिति ने स्थानीय स्तर पर जांच के बाद इन नामों की संस्तुति की है। कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण ने अध्ययन करने के बाद इसे शासन को भेजा है। सूत्रों के अनुसार स्थानीय प्रशासन की ओर से भेजे गए नामों में बदलाव की भी संभावना है। 

वैसे प्रशासन की ओर से भेजी गई सूची में भदैनी निवासी शास्त्रीय संगीत के मर्मज्ञ एवं गायक डॉ. राजेश्वर आचार्य को कला के क्षेत्र में सराहनीय कार्य के लिए पद्म भूषण सम्मान देने की संस्तुति की गई है। नरिया के रोहित नगर निवासी डॉ. कमला को शिक्षा एवं साहित्य और चौबेपुर के छित्तनपुर निवासी रामजनम योगी को शंख वादन के माध्यम से कला के क्षेत्र में योगदान के लिए पद्मश्री से सम्मानित करने की संस्तुति की गई है। रवींद्रपुरी की कृष्णा चक्रवर्ती को सितार वादन के अप्रचलित राग विशेषकर पंचम मालकौंस, नंदकौंस, परणेश्वरी, चारुकेशी, भैरवी, अहिर ललित आदि के वादन में सिद्धहस्त होने की वजह से पद्मश्री की संस्तुति की गई है।

लंका निवासी विवेकानंद तिवारी, भोजूबीर के डॉ. केके सिंह, भैरोनाथ निवासी कथक नृत्यांगना सोनी चौरसिया और सुंदरपुर निवासी डॉ. जगदीश पिल्लई ने भी पद्म पुरस्कारों के लिए आवेदन किया था। इनमें पद्मश्री के लिए एक नाम पर जिला समिति ने सहमति दी थी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Recommendation four Padma awards Dr Rajeshwar Acharya