DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  वाराणसी  ›  आरटीई में एडमिशन से किया इनकार तो रद होगी मान्यता
वाराणसी

आरटीई में एडमिशन से किया इनकार तो रद होगी मान्यता

हिन्दुस्तान टीम,वाराणसीPublished By: Newswrap
Wed, 16 Jun 2021 09:40 PM
आरटीई में एडमिशन से किया इनकार तो रद होगी मान्यता

वाराणसी। वरिष्ठ संवाददाता

शिक्षा का अधिकार (आरटीई) में एडमिशन के लिए दूसरे चरण की लॉटरी निकलने के बाद बीएसए कार्यालय में तरह-तरह की शिकायतें भी आने लगी हैं। बुधवार को आवेदन निरस्त होने समेत कई तरह की शिकायतें आईं। कई अभिभावकों ने आरटीई में चयन के बावजूद निजी स्कूलों द्वारा एडमिशन न लेने या निचली कक्षाओं में एडमिशन करने की शिकायत की गई। बीएसए ने ऐसे सभी स्कूलों की सूची बनाने का आदेश दिया है।

आरटीई के तहत निजी स्कूलों में एडमिशन के लिए दो चरणों में आवेदनों का चयन किया जा चुका है। पांच मई को हुई पहले चरण की लॉटरी में 6769 और 15 जून को हुई दूसरे चरण की लॉटरी में 1243 बच्चों को निजी स्कूलों में एडमिशन के लिए चुना गया है। इस प्रकरण में अभिभावकों की तरफ से तमाम शिकायतें भी आ रही हैं। सबसे आम शिकायत स्कूलों की तरफ से एडमिशन नहीं लेने की है। दूसरे तरह की शिकायतों में बच्चे का निचली कक्षा में एडमिशन कराना और रजिस्ट्रेशन के नाम पर रुपये जमा कराने की शिकायतें हैं। बीएसए ने सभी शिकायतों को गंभीरता से लिया है। बीएसए राकेश सिंह ने बताया कि शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत सभी स्कूलों को अपनी कुल क्षमता का 25 फीसदी अलाभित बच्चों का एडमिशन करना है। सरकार की तरफ से उन्हें शुल्क प्रतिपूर्ति भी दी जाती है। अगर कोई स्कूल इससे इनकार करता है तो उसकी मान्यता रद कर उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

संबंधित खबरें