DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  वाराणसी  ›  बारिश : बाजारों में अघोषित बंदी जैसा माहौल
वाराणसी

बारिश : बाजारों में अघोषित बंदी जैसा माहौल

हिन्दुस्तान टीम,वाराणसीPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 08:30 PM
बारिश : बाजारों में अघोषित बंदी जैसा माहौल

वाराणसी। कार्यालय संवाददाता

शहर में गुरुवार को सुबह से लेकर दोपहर बाद तक रूक-रूक कर तेज बारिश के चलते बाजारों में अघोषित बंदी जैसे हालात रहे। सभी इलाकों में किराना और चाय-पान की एक-दो दुकानों को छोड़ 90 फीसदी दुकानें बंद रहीं। जो दुकानें खुलीं, वहां गिनती के ग्राहक पहुंचें। सड़कों पर वाहनों का आवागमन भी कम रहा। इक्का-दुक्का वाहन आते-जाते रहे। दोपहर तीन बजे के बाद बारिश थमी तो शहर में थोड़ी हलचल शुरू हुई। सिगरा, भेलूपुर, लंका, कैंट, रथयात्रा, सोनिया, मंडुवाडीह, लहरतारा, छावनी, अर्दलीबाजार, पांडेयपुर, पहड़िया, सारनाथ की पॉश कालोनियां हों या मुहल्ले, हर जगह बारिश का पानी लबालब भरा रहा। पहड़िया मंडी, चंदुआ सब्जी मंडी, सुंदरपुर मंडी से थोक सब्जी लेकर निकले ट्राली चालक जहां-तहां फंस गए थे।

कई जगह घुटने भर जलजमाव

अंधरापुल पर मशीन लगानी पड़ी

वाराणसी। बारिश की अवधि बढ़ने के साथ शहरवासियों की मुसीबतें भी बढ़ती गईं। सबसे अधिक पानी पुल और पुलियों के नीचे जमा रहा। चौकाघाट, सरैया डॉट पुल, भदऊ चुंगी डॉट पुल के नीचे घुटने से लेकर कमर तक पानी जमा था। अंधरापुल के पास कमर भर पानी लग गया। नाला चोक होने के कारण पानी नहीं पास हो रहा था। तब जलकल की मशीन मंगाई गई। इसके जरिये करीब घंटे भर चोक नाले की सफाई चली। फिर धीरे-धीरे पानी पास हुआ। इसी तरह नई सड़क, गोदौलिया, मैदागिन, विश्वेश्वरगंज, मछोदरी, नदेसर में राजाबाजार, लहरतारा क्षेत्र की कॉलोनियों में पानी घंटों जमा रहा। लोग दरवाजे पर खड़े होकर पानी के कम होने का इंतजार करते रहे।

संबंधित खबरें