DA Image
30 नवंबर, 2020|8:24|IST

अगली स्टोरी

आलू के दामों में नहीं आ रही कमी

default image

आलू नया हो या पुराना, दोनों के रेट अभी आसमान में ही नजर आ रहे हैं। रविवार को भी नया आलू 60 रुपये व पुराना 40 से 45 रुपये किलो बिका। दो हफ्ते के दौरान आलू का भाव 10 से 20 रुपये किलो तक बढ़ा है। प्याज का दाम तो पहले से ही बेलगाम है, टमाटर भी इस मामले में लाल दिख रहा है। दाम न घटने के पीछे व्यापारियों के अपने तर्क हैं। यह कि नये आलू की आवक घट गई है जबकि पुराने आलू की ज्यादा खपत इन दिनों बुवाई में हो रही है। बहरहाल, आम लोगों का बजट तो डांवाडोल हो ही रहा है।

लोगों को उम्मीद थी कि नये आलू की आवक तेज होगी तो दाम गिरेंगे मगर ऐसा नहीं हुआ बल्कि बढ़ गया। अगस्त में बेंगलुरु से नया आलू आया। इसके बाद अम्बिकापुर से आने लगा। तब दाम थोड़ा गिरा, लेकिन पैदावार कम होने से अब आवक कम हो गई है। इस वजह से दाम बढ़ गया है। पहले यह 40 से 50 रुपये किलो था, अब 60 रुपये पहुंच गया है। जबकि पुराना आलू 30 से 35 रुपये की जगह 40 से 45 रुपये किलो पहुंच गया है।

व्यापारियों को पंजाब से नया आलू आने के बाद भाव गिरने की उम्मीद है। व्यापारी हीरालाल मौर्या एवं वकील ने बताया कि आलू की नई फसल आने में देर हो रही है। इसलिए नया आलू महंगा है।

टमाटर का भी नहीं गिर रहा भाव

टमाटर का भी भाव नहीं गिर रहा है। यहां की मंडियों में बेंगलुरु, अम्बिकापुर एवं नासिक से टमाटर आ रहा है। बावजूद इसके फुटकर में 50 से 60 रुपये किलो बिक रहा है। व्यापारियों का कहना है कि दीपावली तक लोकल उपज आने के बाद टमाटर सस्ता होगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Potato prices are not coming down