DA Image
17 जनवरी, 2021|8:30|IST

अगली स्टोरी

रात 12 बजे नहीं हुआ धूमधड़ाका

रात 12 बजे नहीं हुआ धूमधड़ाका

वाराणसी। कार्यालय संवाददाता

इस बार नए साल का स्वागत सादगी से हुआ। पिछले वर्षों की तरह अबकी क्लबों, होटलों में धूमधड़ाका नहीं हुआ। एकाध जगह आयोजन हुए भी तो उसमें कोविड गाइडलाइन का पालन किया गया। पीएनयू क्लब, बनारस क्लब, होटल एचएचआई, मदीन, सूर्या समेत हर जगह केवल रात में मद्धम संगीत के बीच लोग डिनर के लिए पहुंचे थे। इसके लिए टेबलों की प्री-बुकिंग हुई थी। लोग देर शाम करीब आठ बजे से आना शुरू किये और खाने-पीने का लुत्फ लिया। रात 12 बजते ही एक-दूसरे को बधाई दी। इसके बाद लोग घरों को लौट गये। बनारस और पीएनयू क्लब में रात 12 बजे के पहले ही सन्नाटा छा गया था। क्लब के सदस्यों को ही केवल डिनर के लिए प्रवेश था।

पटाखे जलाकर स्वागत

ठंडी में भी शहर की सड़कों पर युवा निकले और नये साल का स्वागत किया। रात 12 बजते ही गली-मुहल्लों में हैप्पी न्यू ईयर के शोर के साथ पटाखे जलाकर जश्न मनाये गये।

कुछ जगहों पर भी डांस का आयोजन

सिगरा में विनायका प्लाजा और विशेश्वरगंज के त्रिदेव होटल में डांस का कार्यक्रम था। इसमें भी गिनती के लोगों को प्रवेश दिया गया था। विनायका प्लाजा में आयोजन में बिना पास के प्रवेश नहीं दिया गया।

70 फीसदी तक घाटा

होटल और रेस्टोरेंट संचालकों ने बताया कि पूर्व की तुलना में इस बार 70 फीसदी घाटा हुआ है। कोरोना संकट को देखते हुए आयोजनों की अनुमति नहीं दी गई। आयोजन न होने के कारण सभी को घाटा हुआ है।

पुलिस रही तैनात, गंगा में निगरानी

कोविड-19 के लिए जारी निर्देशों का पालन कराने के लिए शहर में देर रात तक पुलिस तैनात रही। क्लब व होटल के बाहर पीआरवी, क्यूआरटी के अलावा चौराहों और तिराहों पर भी औचक चेकिंग की जाती रही। सभी होटलों के बाहर भी पुलिस की तैनाती की गई थी। खासतौर से गंगा घाट पर निगरानी रही। 31 दिसंबर से 4.30 बजे के बाद गंगा पार किसी नाव के न जाने और लोगों के न रुकने देने के आदेश के मद्देनजर सीओ दशाश्वमेध अवधेश पांडेय खुद बोट से गंगा में उतरे और सूचना प्रसारण यंत्र से अपील करने के साथ ही हिदायत दी। जल पुलिस, भेलूपुर, चौक, दशाश्वमेध और आदमपुर पुलिस घाटों पर तैनात रही।