Mother sold for her son Ornaments, father land - विदेश में बेटे की नौकरी लगवाने के लिए मां ने बेचे गहने, पिता ने जमीन DA Image
13 दिसंबर, 2019|10:59|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विदेश में बेटे की नौकरी लगवाने के लिए मां ने बेचे गहने, पिता ने जमीन

बेटे के लिए मां ने बेचे गहने, पिता ने जमीन

विदेश में मोटे वेतन पर नौकरी के नाम पर ठगी के शिकार हुए भुक्तभोगी राकेश और अभिषेक के परिवारों ने खेत और गहने बेचकर निजी संस्था के संचालक को रुपये दिये थे। मर्चेंट नेवी में अफसर बनने का सपना अधूरा रह गया। अब परिवार के पास इतने पैसे नहीं हैं कि वे बच्चों को अच्छी शिक्षा दिला सकें।

मर्चेंट नेवी में अफसर बनने के लिए मलेशिया भेजे गये अभिषेक ने बताया कि शिवपुर क्षेत्र के भवानीपुर स्थित रोशन सी वर्ल्ड मैरीटाइम एकेडमी के संचालक ने उससे किश्तों में रुपये लिए। भभुआ (बिहार) के मूल निवासी इस युवक पर मलेशिया की राइस मिल में कड़ी नजर रखी जाती थी। परिवारवालों से बात नहीं करने दिया जाता था। राइस मिल में उससे बोरियां उठवायी जाती थीं। अभिषेक ने कहा कि मेरा भविष्य बनाने के लिए मां ने गहने बेच दिये और पिता ने जमीन। परिवार की माली हालत पहले से खराब थी। अब स्थिति और विकट हो गयी है। 

वहीं रायगढ़ (छत्तीसगढ़) के राकेश को उसके पिता ने जमीन बेचकर 1.70 लाख रुपये दिये। 18 जुलाई से आईजी, एसएसपी को कई प्रार्थना पत्र दिये जाने के बाद भी आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गयी। राकेश का आरोप है कि उसके मोबाइल पर फोन कर एक बर्खास्त दरोगा धमकियां दे रहा है। इन युवकों का कहना था कि वे तीन महीने से आला अफसरों से शिकायत करते रहे। विदेश मंत्रालय के संज्ञान में मामला आया तो उसने मानव तस्करी का मामला मानते हुए जांच का निर्देश दिया। लेकिन कुछ अधिकारी मामले की लीपापोती में जुटे हैं। 

अब तीसरा भुक्तभोगी पहुंचा एसएसपी आफिस 
पिंडरा (फूलपुर) के सराय गांव के अविनाश पटेल ने भी आठ दिन पहले एसएसपी को प्रार्थना पत्र देकर मामले की जांच की मांग की है लेकिन उसे कोई जवाब नहीं मिला। अविनाश ने बताया कि मंगलवार को उसने धारा 156(3) के तहत कोर्ट में प्रार्थनापत्र दिया है। 

पूर्व दरोगा ने दर्ज कराई रिपोर्ट 
अभिषेक और राकेश सोमवार को सीओ कैंट के कार्यालय में अपना बयान दर्ज कराने पहुंचे थे। बयान की प्रक्रिया में करीब दो घंटे लगे। सोमवार को ही पूर्व दरोगा दिवाकर सिंह ने कैंट थाने में मुगलसराय के राजीव के खिलाफ एफआईआर दर्ज करायी। दिवाकर सिंह रोशन सी वर्ल्ड मैरीटाइम एकेडमी के संचालक के करीबी बताये जाते हैं। आरोप है कि बनारस क्लब के पास राकेश और राजीव ने दिवाकर सिंह को रोका। असलहे से जान से मारने की धमकी दी। दरोगा ने बहादुरी दिखायी तो धमकी देते हुए दोनों भाग निकले। 

मेरे खिलाफ साजिश हो रही है। मर्चेंट नेवी से जुड़ी संस्था चलानेवाले प्रतिद्वंद्वी मुझे परेशान करना चाहते हैं। जिन युवकों ने पुलिस में शिकायत की, वे कभी मुझसे नहीं मिले। कुछ लोगों के बहकावे में आकर युवक मनगढ़ंत आरोप लगा रहे हैं। युवकों को बहकानेवाले मुझे ब्लैकमेल करना चाहते हैं। जांच से स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।
पवन  गुप्ता, संचालक, रोशन सी वर्ल्ड मैरीटाइम एकेडमी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Mother sold for her son Ornaments, father land