ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश वाराणसीबिजली कटौती पर राज्यमंत्री ने जताई नाराजगी

बिजली कटौती पर राज्यमंत्री ने जताई नाराजगी

स्टाम्प एवं न्यायालय पंजीयन शुल्क राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रवींद्र जायसवाल ने बुधवार को सर्किट हाउस में डीएम, सीडीओ समेत बिजली, नगर निगम, जलकल,...

बिजली कटौती पर राज्यमंत्री ने जताई नाराजगी
हिन्दुस्तान टीम,वाराणसीThu, 13 Jun 2024 01:30 AM
ऐप पर पढ़ें

वाराणसी, वरिष्ठ संवाददाता।
स्टाम्प एवं न्यायालय पंजीयन शुल्क राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रवींद्र जायसवाल ने बुधवार को सर्किट हाउस में डीएम, सीडीओ समेत बिजली, नगर निगम, जलकल, जल निगम, पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों के साथ बैठक की। बिजली कटौती पर गहरी नाराजगी जताई। विभागीय अभियंताओं को सख्त हिदायत दी कि निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित कराएं। सारनाथ में तैनात बिजली विभाग के जेई को कार्यों में लापरवाही की शिकायत पर तत्काल हटाने का निर्देश दिया।

बिजली कटौती के संबंध में विभागीय अभियंता ने बताया कि ओवरलोडिंग और अधिक गर्मी से ट्रिपिंग की समस्या आई। वाराणसी में 750 मेगावाट बिजली की डिमांड भेजी गई है। मंत्री बिजली के 10 हजार पोल अब तक न बदले जाने पर नाराजगी जताई। निर्देश दिया कि 28 वार्डों में क्षेत्रीय जेई और पार्षद की टीम से पोल और तार बदलने की स्थलीय जांच कराई जाए। एक सप्ताह अभियान चलाने को कहा।

पेयजल दुर्व्यवस्था पर जताई नाराजगी

स्वच्छता पर विशेष जोर देते हुए राज्यमंत्री ने अपर नगर आयुक्त को नियमित कूड़ा उठान और निस्तारण, सड़क पर गंदगी करने वाले पर कार्रवाई को कहा। शिवपुर सीएचसी के पास कूड़ा डंप होने पर नाराज हुए। प्रत्येक घर में पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करने को कहा। बोले, जिन क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति की समस्या हो, समाधान के लिए तत्काल कार्ययोजना उपलब्ध कराएं।

बिजली कनेक्शन के अभाव में 10 ट्यूबवेल बंद

सारनाथ क्षेत्र में 10 ट्यूबवेलों के बिजली कनेक्शन के अभाव में अब तक चालू न होने पर रवीन्द्र जायसवाल ने नाराजगी जताई। इस पर डीएम एस. राजलिंगम ने बताया कि इस प्रकरण में जांच के बाद रिकवरी के आदेश दिए गए हैं। डीएम ने विभागीय अधिकारी को समाधान के लिए शीघ्र कार्ययोजना के साथ तलब किया है। मंत्री ने सरसौली क्षेत्र में प्रदूषित जलापूर्ति की समस्या के शीघ्र समाधान का निर्देश दिया। अनंता कालोनी के संबंध में विभागीय अभियंता ने बताया कि एक सप्ताह में ट्यूबवेल का कनेक्शन कराकर जलापूर्ति नियमित कर दी जाएगी।

सड़कों पर पड़ा मलबा हटवाएं

पीडब्ल्यूडी के अभियंता को निर्देशित करते हुए राज्यमंत्री ने कहा कि सड़क चौड़ीकरण के दौरान हटाए गए अतिक्रमण, तोड़फोड़ के मलबे को हटाकर बरसात से पहले निर्माण पूरा कराएं। तोड़फोड़ के दौरान कई घरों के सीवर और पेयजल लाइन क्षतिग्रस्त हो गई हैं, इन्हें तत्काल दुरुस्त करवायें। बैठक में सीडीओ हिमांशु नागपाल, एसडीएम सदर सार्थक अग्रवाल, विभिन्न वार्डों के पार्षद भी मौजूद थे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।