DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  वाराणसी  ›  मुंबई में बैठे सीख रहे बनारस की ठुमरी
वाराणसी

मुंबई में बैठे सीख रहे बनारस की ठुमरी

हिन्दुस्तान टीम,वाराणसीPublished By: Newswrap
Sun, 13 Jun 2021 07:50 PM
मुंबई में बैठे सीख रहे बनारस की ठुमरी

वाराणसी।

कोरोना काल ने कुछ आजादी भी दी है। एक आजादी है अपने शहर में रहते हुए दूसरे शहर के किसी से व्यक्ति से सहज ही मुखातिब होने की। संगीत प्रशिक्षु इसका बखूबी लाभ उठा रहे हैं। मुंबई में रहते हुए वे बनारस की ठुमरी सीख रहे हैं। ठुमरी सम्राट पं. महादेव प्रसाद मिश्र संगीत संस्थान और प्रमिला मिश्रा एकेडमी ऑफ इण्डियन क्लासिकल म्युजिक की ऑनलाइन संगीत कार्यशालाओं में में भारत के साथ विदेशों से भी प्रशिक्षु जुड़े।

पं. महादेव प्रसाद मिश्र संगीत संस्थान की कार्यशाला में पं. गणेश प्रसाद मिश्र ने संगीत के विभिन्न पहलुओं पर प्रकाश डाला। देश के विभिन्न शहरों से जुड़े प्रशिक्षुओं डॉ. स्मृति, शिल्पा सूबेदार, विकास, शुभ मिश्र एवं स्वरांश मिश्र ने माना कि ऑनलाइन कार्यशाला से उनका मनोबल बढ़ा है। सकारात्मक ऊर्जा का संचार हुआ है। कार्यशाला के समापन सत्र की अध्यक्षता नूतन मिश्र एवं संचालन शुभम कुमार ने किया।

प्रमिला मिश्रा एकेडमी ऑफ इण्डियन क्लासिकल म्युजिक की कार्यशाला के दूसरे दिन पं. धर्मनाथ मिश्र ने ठुमरी-दादरा का परिचय दिया। उन्होंने राग खमाज व मिश्र खमाज में ठुमरी के अलग-अलग अंदाज सिखाए। उनके साथ तबले पर प्रशांत मिश्र ने संगत की। कार्यशाला में लंदन से शिवाली, अमेरिका से रवि कुमार, श्रीलंका से हंसी, जापान से राजेश कुशवाहा, अंजनी कुमार, खुशबू के अलावा दुबई, जर्मनी तथा भारत के मुंबई, दिल्ली, जबलपुर, पटना, लखनऊ आदि शहरों से भी प्रतिभागियों ने भाग लिया। संयोजन सितारवादक पं. देवब्रत मिश्र ने किया।

संबंधित खबरें