ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश वाराणसीबरेका में रावण दहन होते ही गूंजा जय श्रीराम, हर-हर महादेव

बरेका में रावण दहन होते ही गूंजा जय श्रीराम, हर-हर महादेव

जैसी नियत, वैसी नियति। रावण का अभिमान उसे दिग्भ्रमित कर चुका था। उसी के लिए राम वन आए थे। रावण को राम के हाथों सद्गति मिलनी थी जो उसे मिली और वह काल...

जैसी नियत, वैसी नियति। रावण का अभिमान उसे दिग्भ्रमित कर चुका था। उसी के लिए राम वन आए थे। रावण को राम के हाथों सद्गति मिलनी थी जो उसे मिली और वह काल...
1/ 2जैसी नियत, वैसी नियति। रावण का अभिमान उसे दिग्भ्रमित कर चुका था। उसी के लिए राम वन आए थे। रावण को राम के हाथों सद्गति मिलनी थी जो उसे मिली और वह काल...
2/ 2
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,वाराणसीWed, 05 Oct 2022 07:46 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

वाराणसी। जैसी नियत, वैसी नियति। रावण का अभिमान उसे दिग्भ्रमित कर चुका था। उसी के लिए राम वन आए थे। रावण को राम के हाथों सद्गति मिलनी थी जो उसे मिली और वह काल का भेंट चढ़ गया।

बरेका की रामलीला में विजयादशमी पर बुधवार को रावण का पुतला दहन किया गया। लीला में राम बने पात्र जैसे ही तीर से रावण के पुतले का दहन किया। मैदान में उपस्थित जनसमुदाय ने जयश्रीराम और हर-हर महादेव का उद्घोष शुरू कर दिया। इस दौरान शहर के विशिष्टजनों के साथ बरेका के कर्मचारी और अफसर भी उपस्थित रहे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
epaper