अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

UP: काशी में जुटे संघ के दिग्गजों, मिशन 2019 पर होगा मंथन

RSS chief Mohan Bhagwat

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी बीजेपी के मिशन  2019 का प्रमुख केंद्र बनने जा रहा है। ‘युवा उद्घोष’ कार्यक्रम के जरिए मिशन को आगाज देने के बाद अब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सर संघचालक मोहन भागवत की ‘पाठशाला’ लगेगी। 15 से 21 फरवरी तक काशी प्रवास के दौरान सर संघचालक के साथ भैयाजी जोशी, सुरेश सोनी और डॉ. कृष्ण गोपाल सरीखे दिग्गज नेता रहेंगे। संभवत: यह पहला मौका होगा जब संघ, सरकार और बीजेपी के कद्दावर नेताओं का यहां जमावड़ा लगे। आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों के बीच संघ प्रमुख का काशी प्रवास एवं दिग्गजों की मौजूदगी को देखते हुए राजनीतिक हवा ने भी जोर पकड़ा है। 

सांस्कृतिक संकुल में हर दिन ‘क्लास’ 
छह दिवसीय काशी प्रवास के दौरान लालपुर स्थित ट्रेड फैसिलिटी सेंटर संघ की गतिविधियों का प्रमुख केन्द्र रहेगा। 15 फरवरी की शाम संघ प्रमुख बनारस पहुंचेंगे। 16 फरवरी को कार्यक्रम की शुरुआत होगी। पहले दिन बैठक में काशी, गोरक्ष और अवध प्रांतों के प्रतिनिधियों के रूप में संघ और उसके सहयोगी संगठन के लोग शामिल होंगे। बैठकों के जरिए आरएसएस प्रमुख, प्रांतों की लोकसभा सीटों के संबंध में फीडबैक भी लेंगे। 

समन्वय बैठक में शाह-योगी होंगे शामिल  
काशी प्रवास के दौरान 18 फरवरी को संघ प्रमुख सम्पूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय ग्राउंड में 21 हजार गणवेशधारी स्वयंसेवकों को संबोधित करेंगे। जबकि 20 फरवरी को सर संघचालक सरकार के नुमाइंदों की मौजूदगी में संघ और बीजेपी संगठन की समन्वय बैठक को संबोधित करेंगे। जिसमें बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल, प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय, सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य सहित कई मंत्रियों के शामिल होने की संभावना है। माना जा रहा है कि बैठकों का केंद्र बिंदु आगामी लोकसभा चुनाव में पूर्वांचल ही नहीं उत्तर प्रदेश में बीजेपी और पीएम मोदी की लोकप्रियता के ग्राफ को और ऊपर बढ़ाना होगा।

संकुल में ठहरेंगे संघ प्रमुख
आरएसएस के कार्यक्रम को लेकर दिग्गजों का आगमन शुरू हो गया। क्षेत्र प्रचारक शिवनारायण मंगलवार को बनारस पहुंचे। उन्होंने दीनदयाल हस्तकला संकुल पहुंचकर तैयारियों का जायजा लिया। देर शाम प्रांत प्रचारक अनिल कुमार, सह प्रांत प्रचारक मनोज कुमार सहित अन्य पदाधिकारियों के साथ सिगरा स्थित प्रांतीय कार्यालय पर बैठक की। सूत्रों के अनुसार, संघ प्रमुख मोहन भागवत समेत अन्य दिग्गज संकुल में ही ठहरेंगे। संघ प्रमुख के साथ आठ केंद्रीय पदाधिकारियों के अलावा 1294 पदाधिकारी व कार्यकर्ता भी संकुल में ठहरेंगे। पांच दिन तक बैठकें चलेंगी, जिसमें बनारस, कानपुर, गोरखपुर व अवध क्षेत्र के वरिष्ठ पदाधिकारी शामिल होंगे। बनारस के 100 से अधिक पदाधिकारी इस बैठक में होंगे। संघ प्रमुख के कार्यक्रम के लिये 150 से अधिक कार्यकर्ताओं को व्यवस्था की जिम्मेदारी सौंपी गई है। आठ केंद्रीय पदाधिकारियों में सुरेश सोनी, इंद्रेश कुमार, दत्तात्रेय होसबोले, मधुभाई कुलकर्णी, अनिल ओक सहित कई बड़े नाम शामिल होंगे।   

कड़ी सुरक्षा घेरे में संकुल 
15 फरवरी को संघ प्रमुख मोहन भागवत बनारस आएंगे। इसे देखते हुए संकुल परिसर की सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए जा रहे हैं। मंगलवार को एसपी सिटी दिनेश सिंह, एसपी प्रोटोकॉल विकास वैद्य एवं सीओ कैंट प्रशांत वर्मा ने संकुल का निरीक्षण कर सुरक्षा व्यवस्था का खाका तैयार किया। एसपी के निर्देश पर संकुल परिसर की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Important meeting with over 1294 workers and office bearers with RSS chief Mohan Bhagwats
दूसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय
भारत188/4(20.0)
vs
दक्षिण अफ्रीका189/4(18.4)
दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 6 विकटों से हराया
Wed, 21 Feb 2018 09:30 PM IST
दूसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय
भारत188/4(20.0)
vs
दक्षिण अफ्रीका189/4(18.4)
दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 6 विकटों से हराया
Wed, 21 Feb 2018 09:30 PM IST
तीसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय
दक्षिण अफ्रीका
vs
भारत
न्यूलैन्ड्स, केपटाउन
Sat, 24 Feb 2018 09:30 PM IST