ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश वाराणसीगंगा सप्तमी: विश्वनाथ धाम से तट तक ‘गंगार्चन

गंगा सप्तमी: विश्वनाथ धाम से तट तक ‘गंगार्चन

गंगा सप्तमी पर मंगलवार को विश्वनाथ धाम से गंगा घाट तक विविध आयोजन हुए। काशी विश्वनाथ मंदिर न्यास की ओर से प्रात:काल ललिता घाट पर गंगा पूजन किया गया।...

गंगा सप्तमी: विश्वनाथ धाम से तट तक ‘गंगार्चन
हिन्दुस्तान टीम,वाराणसीTue, 14 May 2024 11:15 PM
ऐप पर पढ़ें

वाराणसी, प्रमुख संवाददाता।
गंगा सप्तमी पर मंगलवार को विश्वनाथ धाम से गंगा घाट तक विविध आयोजन हुए। काशी विश्वनाथ मंदिर न्यास की ओर से प्रात:काल ललिता घाट पर गंगा पूजन किया गया। वहीं शाम को सांस्कृतिक संध्या ‘गंगार्चन हुआ। दशाश्वमेध घाट पर गंगा सेवा निधि और प्राचीन दशाश्वमेध घाट पर गंगोत्री सेवा समिति की ओर से गंगा पूजन किया गया। नमामि गंगे की ओर से विशेष सफाई अभियान चलाया गया।

विश्वनाथ मंदिर न्यास की ओर से प्रातः 6 बजे ललिता घाट पर मां गंगा का दुग्धाभिषेक करने के बाद धाम परिसर स्थित गंगा मंदिर में विशेष आराधना अर्चकों ने की। मां गंगा के विग्रह को पंचामृत स्नान कराकर नूतन वस्त्र एवं आभूषण धारण कराए गए। विभिन्न पुष्पों और मालाओं से शृंगार कर आरती उतारी गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भेंट की गई बनारसी साड़ी का अर्पण मां गंगा को किया गया। यह साड़ी सोमवार को प्रधानमंत्री ने बाबा के पूजन के बाद मंदिर प्रबंधन को भेंट की थी। शाम को धाम स्थित मंदिर चौक में सांस्कृतिक संध्या सजी। इसमें नगर के कलाकारों ने भजनों की प्रस्तुति की। विशिष्ट आयोजन के निमित्त धाम में आकर्षक साज सज्जा की गई। सांस्कृतिक कार्यक्रम का मंदिर न्यास के आधिकारिक सोशल मीडिया हैंडल फेसबुक एवं यूट्यूब चैनल पर सजीव प्रसारण भी किया गया।

वहीं दशाश्वमेध घाट पर शाम को गंगा सेवा निधि एवं गंगोत्री सेवा समिति की ओर से दैनिक आरती से पूर्व मां गंगा का विशेष पूजन किया गया। दोनों संस्थाओं की तरफ से सात-सात वैदिक ब्राह्मणों ने मां का षोडशोपचार पूजन-अर्चन किया गया। 11-11 लीटर दूध से अभिषेक कर विभिन्न फल एवं मिष्ठान्न का नैवेद्य अर्पित किया गया। इसके बाद भव्य आरती हुई। इस दौरान बड़ी संख्या में स्थानीय आस्थावान एवं पर्यटकों की मौजूदगी रही।

नमामि गंगे की ओर से गंगा सप्तमी पर राजघाट पर श्रमदान किया गया। श्रमदान के बाद मां गंगा की आरती उतारी गई। आयोजन में प्रमुख रूप नमामि गंगे काशी क्षेत्र के संयोजक राजेश शुक्ला, प्रमोद कुमार श्रीवास्तव, रवि केसरी, राजेश गुप्ता, अंबिका मौर्या, संतोष जायसवाल, प्रमोद बरनवाल, अजीत गुप्ता , मदन सेठ, आरती केसरी, रक्षा कौर की उपस्थिति रही।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें
अगला लेख पढ़ें