First Monday of Savan 2 lakh 20 thousand devotees done by night till 8 Oclock Kashi Vishwanath Darshan - सावन का पहला सोमवारः रात आठ बजे तक 2 लाख 20 हजार भक्तों ने किया काशी विश्वनाथ का दर्शन DA Image
18 नबम्बर, 2019|8:59|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सावन का पहला सोमवारः रात आठ बजे तक 2 लाख 20 हजार भक्तों ने किया काशी विश्वनाथ का दर्शन

सावन के पहले सोमवार पर देवाधिदेव महादेव बाबा काशी विश्वनाथ की महाअर्चना के लिए जनमानस उमड़ पड़ा। बाबा के दर्शन पाने के लिए भक्तों ने चार से छह घंटे कतार में बिताए। मंगला आरती के बाद शुरू हुआ दर्शन रात तक जारी रहा। रात आठ बजे तक दो लाख 20 हजार भक्त काशी विश्वनाथ के दरबार में हाजिरी लगा चुके थे। सुरक्षा के अभूतपूर्व इंतजामों के बीच हजारों कांवरियों ने भी जलाभिषेक किया। ज्ञानवापी से दशाश्वमेध के बीच यह कांवरिये कतार में खड़े होकर सारी रात मंदिर के पट खुलने की प्रतीक्षा करते रहे। 

भोर में 03 बजकर 47 मिनट पर मंदिर के पट खुलते ही कतार में खड़े भक्तों में हलचल तेज हो गई। कांवरियों के पहले जत्थे के छत्ताद्वार की ओर बढ़ते ही खामोशी से खड़े शिवभक्तों का जोश जाग उठा। ज्ञानवापी में प्रवेश पाने वाले पहले जत्थे में सबसे आगे आजमगढ़ के दीपक अग्रहरि थे। वह पिछले 12 वर्षों से लगातार बाबा को जल चढ़ाने काशी आते हैं। इस बार सबसे पहले जलाभिषेक का मौका पाकर वह फूले नहीं समा रहे। मंगला आरती का वक्त पूरा होने तक कतार में खड़े भक्त हरहर बमबम, हरहर महादेव का घोष करने लगे। हजारों लोगों द्वारा एक साथ की जा रही शिवनाम की गर्जना चौक से गोदौलिया की ओर उतरती ढाल पर किसी धारा की भांति आगे बढ़ रही थी। ऐसा प्रतीत हो रहा था मानो शिवनाम की यह धारा गंगा से मिलन को घाट की ओर बढ़ रही हो।

शिवदर्शन के लिए भीड़ लगातार बढ़ती रही और धीरे-धीरे सूरज की तपन भी तेज होती रही। इससे निजात पाने के लिए  क्षेत्र में कुछ लोगों ने अपने सबमर्सिबल पंप चालू कर दिए और भक्त नहा-नहा कर फिर से कतार में खड़े हो रहे थे। आलम यह था कि करीब एक लाख लोग लक्सा से दशाश्वमेध होते हुए ज्ञानवापी और मैदागिन से ज्ञानवापी के बीच कतार में लगे थे। 

वहीं, मंगला आरती में चार सौ दर्शनार्थी शामिल हुए। इनमें कई विशिष्ट और अतिविशिष्टजन भी बिना टिकट शामिल थे। मंगला आरती के टिकधारियों को कोतवालपुरा की ओर से प्रवेश दिया गया। मंगला आरती के कुल 300 टिकट बिके थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:First Monday of Savan 2 lakh 20 thousand devotees done by night till 8 Oclock Kashi Vishwanath Darshan