DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रियंका गांधी का सीएम योगी पर तंज, सोनभद्र में आपका स्वागत करती हूं, अब पीड़ितों की मांग भी पूरी कीजिये

दस आदिवासियों की हत्या से चर्चा में सोनभद्र के उभ्भा गांव में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के पहुंचते ही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने तंज कसते हुए ट्वीट किया। शुक्रवार को प्रियंका गांधी भी पीड़ितों से मिलने जा रही थी लेकिन उन्हें हिरासत में लेकर चुनार के किले में रखा गया। वह पीड़ितों से मिले बगैर वापस नहीं जाने पर अड़ गई थी। उन्होंने किले से ही योगी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा था कि घटना के तीन दिन बाद भी भाजपा का कोई लोकल नेता भी पीड़ितों से मिलने नहीं गया है। न कोई विधायक, न सांसद, न मंत्री या मुख्यमंत्री मिलने गए। प्रियंका ने पीड़ित परिवारों की अोर से पांच मांगें भी रखीं।

प्रियंका के हमले के कुछ देर बाद ही सीएम योगी के सोनभद्र के उभ्भा गांव जाने अौर पीड़ितों से मुलाकात करने की घोषणा हुई। रविवार की सुबह जैसे ही सीएम योगी का हेलीकाफ्टर सोनभद्र में उतरा प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर तंज कसा। प्रियंका गांधी ने कहा कि उप्र के माननीय मुख्यमंत्री के सोनभद्र जाने का मैं स्वागत करती हूं। देर से ही सही,  पीड़ितों के साथ खड़ा होना सरकार का फर्ज़ है। अपना फर्ज़ पहचानना अच्छा है। उम्भा को लम्बे समय से न्याय की प्रतीक्षा है। अपेक्षा है उम्भा के पीड़ितों को न्याय मिलेगा और उनकी 5 मांगों को माना जाएगा।

करीब तीन घंटे बाद जैसे ही सीएम योगी ने सोनभद्र के पीड़ितों के लिए घोषणाएं की प्रियंका गांधी ने एक अौर ट्वीट किया। इस ट्वीट में उन्होंने कहा कि उम्भा गांव के पीड़ितों की आवाज का जब कांग्रेस के हजारों कार्यकर्ताओं, न्यायपसंद लोगों ने साथ दिया, तब उप्र सरकार को भी लगा कोई गम्भीर घटना घटी है। आज जो घोषणाएं की गयी हैं, उन पर जल्द अमल हो। आदिवासियों को जमीन का मालिकाना मिले और सबसे जरूरी है कि गांव के लोगों को पूरी सुरक्षा हो।

27 घंटे से ज्यादा समय तक चला था प्रियंका का आंदोलन
इससे पहले शुक्रवार की दोपहर से शनिवार की दोपहर तक प्रियंका गांधी का आंदोलन चला था। पीड़ितों के परिजनों से मुलाकात के लिए जाते समय उन्हें हिरासत में ले लिया गया था। पीड़ितों से मुलाकात के बाद ही वह मानी थीं। 

शुक्रवार की दोपहर सोनभद्र जाते समय नरायनपुर से हिरासत में ले गई प्रियंका गांधी को देर रात तक मनाने की कोशिशें जारी रहीं लेकिन कोई हल नहीं निकल सका। प्रियंका ने कहीं भी पीड़ितों से मिलने का प्रस्ताव प्रशासन को दिया लेकिन उन्हें कोई आश्वासन नहीं मिला। रात दो बजे प्रियंका और अधिकारियों के बीच वार्ता विफल होने के साथ ही कांग्रेसियों का जमावड़ा भी चुनार गेस्ट हाउस में बढ़ने लगा। इसे देखते हुए सुबह होते ही पीएसी के साथ ही पुलिस बल की भी अतिरिक्त तैनाती कर दी गई। गेस्ट हाउस की तरफ आ रहे लोगों को जगह-जगह रोकना भी शुरू कर दिया गया। 

इसी बीच पता चला कि घोरावल से खुद पीड़ितों के परिजन प्रियंका से मिलने चुनार किले के गेट तक पहुंच गए हैं। इसके बाद भी प्रशासन मुलाकात को तैयार नहीं हुआ तो प्रियंका ने धरना शुरू कर दिया। धरने के दौरान ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ पुलिस की नोकझोंक भी शुरू हो गई। अफरातफरी के बीच बवाल बढ़ने की आशंका में प्रशासन पीड़ितों को किले के अंदर लाकर मिलाने के लिए तैयार हो गया। दोपहर करीब साढ़े ग्यारह बजे पहले आठ फिर छह और पीड़ितों को प्रियंका से मिलवाया गया। पीड़ितों से मुलाकात के बाद प्रियंका ने सरकार के सामने सभी पीड़ितों के परिजनों को 25-25 लाख मुआवजा समेत पांच मांगे भी रखीं। कांग्रेस की तरफ से भी सभी पीड़ितों के परिजनों को दस-दस लाख रुपये की आर्थिक सहायता की घोषणा की। 

पीड़ितों से मिलकर भावुक हुईं प्रियंका, छलके आंसू
मिर्जापुर। सोनभद्र गोलीबारी के पीड़ितों के परिजनों से शनिवार की दोपहर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की मुलाकात हो गई। चुनार किले में पीड़ित महिलाओं से मिलने पर प्रियंका भी भावुक हो गईं। रोती-बिलखती महिलाओं को गले लगाते ही प्रियंका की आंखें भी छलक पड़ीं। मड़िहान के जुड़िया गांव की हीरावती ने जब फफकते हुए बताया कि अब उसके मायके में कोई नहीं बचा तो माहौल गमगीन हो गया। हीरावती ने अपने भाई और भाभी को खो दिया है। प्रियंका को अपनी बात सुनाते ही वह रो पड़ी। प्रियंका ने उसे अपने गले लगा लिया और  करीब पांच मिनट तक पीठ पर हाथ रखकर दिलासा देती रहीं। 

पीड़ितों की अोर से यह पांच मांगें रखी
सभी पीड़ितों को 25-25 लाख का मुआवजा मिले
जिस जमीन को पुश्तों से जोत रहे हैं उस पर मालिकाना हक मिले
हत्याकांड से जुड़े मुकदमे के लिए फास्ट ट्रैक बने, ताकि न्याय जल्दी हो
इन लोगों पर लगाए गए मुकदमे वापस लिये जाए
अपना हक मांग रहे इन लोगों को सुरक्षा दी जाए
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Congratulations to Priyanka Gandhi on Yogi welcome to Sonbhadra now also fulfill the demands of the victims