अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छमाही परीक्षा में हो जाएगा बोर्ड का रिहर्सल

file photo

यूपी बोर्ड की परीक्षा तिथि घोषित होते ही स्कूलों में तैयारियां तेज हो गई हैं। इन स्कूलों में 20 से 30 सितंबर के बीच होने वाली छमाही परीक्षा में बोर्ड परीक्षा का रिहर्सल हो जाएगा क्योंकि नए पैटर्न के हिसाब से छमाही परीक्षा में प्रश्नपत्र बनाए जा रहा है। बोर्ड ने इस बार इंटरमीडिएट कक्षा के कोर्स और पैटर्न में बदलाव किया है। 

बोर्ड ने परीक्षा जल्द समाप्त कराने के लिए सीबीएसई पैटर्न की तरह इंटर के प्रश्नपत्रों में बदलाव किया है। अब एक विषय में एक ही प्रश्नपत्र होगा। आर्य महिला इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्य डॉ. प्रतिभा यादव का कहना है कि छमाही परीक्षा में ही बोर्ड परीक्षा की तैयारी का आकलन हो जाएगा। बोर्ड के नए पैटर्न के हिसाब से छमाही का पेपर बनाया गया है ताकि बच्चों को नए पैटर्न में परीक्षा देने में दिक्कत न हो। कोर्स हर हाल दिसंबर तक समाप्त हो जाएगा। 

निवेदिता बालिका इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्य डॉ. आनंद प्रभा सिंह के मुताबिक परीक्षा तिथि घोषित हो जाने से बच्चों से लेकर शिक्षक तर्क अलर्ट मोड में आ गए हैं। अब सबको मालूम हो गया है कि परीक्षा हर हाल में सात फरवरी से होगी। अभी से छात्राओं को मॉडल पेपर से अभ्यास कराया जा रहा है। 
बंगाली टोला इंटर कॉलेज में प्रार्थना के समय ही बच्चों को परीक्षा की तिथि की जानकारी दी गई। प्रधानाचार्य डॉ. जयप्रकाश पांडेय के अनुसार बच्चों से कहा गया है कि परीक्षा में चार महीने रह गए हैं। तैयारी में कोई कमी न करें। छमाही परीक्षाएं नए पैर्टन पर होगी। 

क्वींस कॉलेज के प्रधानाचार्य राजेश यादव के मुताबिक 50 फीसदी कोर्स पूरा है। तिथि घोषित होते ही सभी विषयों के शिक्षकों यह जानकारी ली गई है कि अद्धवार्षिक परीक्षा के बाद कितनी जल्दी कोर्स समाप्त कर पाएंगे। सितंबर के बाद सिर्फ ढाई से तीन महीने ही तैयारी के लिए मिलेंगे। अगर प्लानिंग नहीं  हुई तो समस्या आएगी। 

आम तौर पर प्रधानाचार्य और शिक्षक मानसिक रूप से तैयार थे कि फरवरी के प्रथम सप्ताह में परीक्षाएं होंगी। पिछले साल भी ऐसा हुआ था। इस बार तिथि जल्दी घोषित होने से तैयारियों में थोड़ी तेजी आएगी।। 

सीआईएसई की अद्धवार्षिक परीक्षाएं शुरू
सीआईएसई (काउंसिल फार द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एक्जामिनेशन) से सम्बद्ध कई स्कूलों में अर्द्धवार्षिक परीक्षाएं मंगलवार से आरंभ हो गईं जो 28 तक चलेंगी। जिले में आईसीएसई बोर्ड के 11 स्कूल हैं।  सीबीएसई स्कूलों में भी 14-15 सितंबर से परीक्षाएं प्रस्तावित हैं। स्कूलों की तिथियां अलग-अलग है। तीस सिंतबर तक सभी की परीक्षाएं समाप्त हो जाएंगी। नगर में सीबीएसई के 125 विद्यालय हैं। कुछ विद्यालयों में दसवीं तथा कुछ में 12वीं तक की पढ़ाई होती है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Board rehearsal will be held in half yearly exam