Bhojpuri heroine Pakhi Hegde was Hindi teacher - यूपी के मल्टीप्लेक्स में भोजपुरी फिल्मों का प्रदर्शन अनिवार्य हो: पाखी हेगड़े DA Image
14 नबम्बर, 2019|4:12|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी के मल्टीप्लेक्स में भोजपुरी फिल्मों का प्रदर्शन अनिवार्य हो: पाखी हेगड़े

भोजपुरी फिल्मों की स्टार पाखी हेगड़े पहुंची हिंदी फिल्म भूमि के प्रमोशन के लिए

1 / 5भोजपुरी फिल्मों की स्टार पाखी हेगड़े पहुंची हिंदी फिल्म भूमि के प्रमोशन के लिए

एमएसडब्ल्यू और एमबीए कर चुकीं पाखी अब अपने नाम के आगे डॉक्टर लगाने की तैयारी में हैं।

2 / 5एमएसडब्ल्यू और एमबीए कर चुकीं पाखी अब अपने नाम के आगे डॉक्टर लगाने की तैयारी में हैं।

पाखी ने कहा कि मल्टीप्लेक्स में भोजपुरी फिल्मों के रिलीज नहीं होने से काफी नुकसान हो रहा है।

3 / 5पाखी ने कहा कि मल्टीप्लेक्स में भोजपुरी फिल्मों के रिलीज नहीं होने से काफी नुकसान हो रहा है।

एक प्रश्न के जवाब में पाखी ने कहा कि 55 से अधिक भोजपुरी फिल्में करने के बाद मैंने एक अलग अंदाज में ह

4 / 5एक प्रश्न के जवाब में पाखी ने कहा कि 55 से अधिक भोजपुरी फिल्में करने के बाद मैंने एक अलग अंदाज में हिंदी फिल्मों में कदम रखा है।

पाखी ने कहा कि मल्टीप्लेक्स में भोजपुरी फिल्मों के रिलीज नहीं होने से काफी नुकसान हो रहा है।

5 / 5पाखी ने कहा कि मल्टीप्लेक्स में भोजपुरी फिल्मों के रिलीज नहीं होने से काफी नुकसान हो रहा है।

PreviousNext

निरहुआ रिक्शावाला फेम भोजपुरी की स्टार नायिका तेलुगू मूल की पाखी हेगड़े फिल्मी दुनिया में आने से पहले हिंदी की टीचर भी थीं। एमएसडब्ल्यू और एमबीए कर चुकीं पाखी अब अपने नाम के आगे डॉक्टर लगाने की तैयारी में हैं। पाखी जल्द ही राजनीति शास्त्र से संबंधित विषय पर पीएचडी करने जा रही हैं।

नदेसर स्थित ताज होटल में मंगलवार को पत्रकारों से बतचीत में पाखी हेगड़े ने ‘उत्थान’, ‘त्रुटिपूर्ण’,‘पथभ्रष्ट’, ‘अपव्यय’ और ‘निजोन्नति’ जैसे शब्दों का बातचीत में धड़ल्ले से प्रयोग करते हुए यह साबित करने की कोशिश की कि वह सचमुच हिन्दी की अच्छी टीचर थीं। पाखी ने बीच-बीच में अपनी बातें भोजपुरी में भी रखीं। 

एक प्रश्न के जवाब में पाखी ने कहा कि 55 से अधिक भोजपुरी फिल्में करने के बाद मैंने एक अलग अंदाज में हिंदी फिल्मों में कदम रखा है। झारखंड की एक महिला के जीवन की सत्य घटना पर आधारित हिंदी फिल्म द ब्लैक ट्रुथ में मैंने केंद्रीय भूमिका निभाई है। अगले छह से सात महीने में यह फिल्म दर्शकों के बीच होगी। 

पाखी ने कहा कि मल्टीप्लेक्स में भोजपुरी फिल्मों के रिलीज नहीं होने से काफी नुकसान हो रहा है। कर्नाटक में तो सरकार ने नियम बना दिया है कि क्षेत्रीय भाषाओं की फिल्में मल्टीप्लेक्स में अनिवार्य रूप से लगानी हैं। उत्तर प्रदेश में भी ऐसा नियम होना चाहिए तभी भोजपुरी फिल्मों की लोकप्रियता के वास्तविक ग्राफ का पता चलेगा। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bhojpuri heroine Pakhi Hegde was Hindi teacher