DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › वाराणसी › रिटायर प्रोफेसर के घर बांग्लादेशी गिरोह ने डाला था डाका
वाराणसी

रिटायर प्रोफेसर के घर बांग्लादेशी गिरोह ने डाला था डाका

हिन्दुस्तान टीम,वाराणसीPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 08:40 PM
रिटायर प्रोफेसर के घर बांग्लादेशी गिरोह ने डाला था डाका

वाराणसी। कार्यालय संवाददाता

रोहनिया के चंद्रिका नगर में रिटायर प्रोफेसर और उनकी पत्नी को बंधक बनाकर डकैती करने वाले गिरोह का पर्दाफाश हो गया है। बांग्लादेशियों के गिरोह ने डाका डाला था। लखनऊ पुलिस ने डकैती में शामिल तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में तीनों ने अपना नाम बांग्लादेश निवासी शेख रूबेल उर्फ रवीउल, आलम उर्फ अलअमीन और रवीउल पुत्र मंसूर इस्लाम बताया। रोहनिया पुलिस इन तीनों को लाने लखनऊ रवाना हो गई।

रोहनिया थाना क्षेत्र के चंद्रिका बिहार कॉलोनी में 26 सितंबर की रात रिटायर प्रो. हृदय नारायण राय के घर की ग्रिल काटकर डकैत अंदर घुसे थे। उन्हें और उनकी पत्नी श्यामा देवी को बंधक बनाने के बाद लगभग आठ लाख के गहने व नगदी उठा लें गए थे। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। जांच के दौरान लखनऊ के चिनहट थाने की पुलिस एवं क्राइम ब्रांच ने सोमवार को तीन बदमाशों को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया। पूछताछ करने पर पता चला कि यह बांग्लादेश का एक अंतराष्ट्रीय गिरोह है, जो अवैध रूप से भारत में प्रवेश कर विभिन्न राज्यों एवं जनपदों में डकैती एवं चोरी करता है। इनके कब्जे से रोहनिया के चंद्रिका बिहार में बुजुर्ग दंपती के आधार कार्ड व अन्य सामान बरामद हुए हैं।

ग्रिल उखाड़कर घर में करते हैं प्रवेश

डकैत आधी रात में घर की चहारदीवारी पार कर खिड़िकियों की ग्रिल उखाड़कर अन्दर घुसते हैं। घर के सदस्यों को असलहों के बल पर बंधक बनाकर घर का सामान लूट कर फरार हो जाते हैं। आरोपितों के खिलाफ लखनऊ कमिश्नरेट के विभिन्न थानों, मध्य प्रदेश के कटनी व अन्य प्रदेशों में भी अभियोग पंजीकृत हैं।

संबंधित खबरें