DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धनेसरा तालाब से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई टली

धनेसरा तालाब से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई टली

पौराणिक धनेसरा तालाब को अतिक्रमण मुक्त कराने की कोशिश एक बार फिर नाकाम हो गई। नगर विकास राज्यमंत्री गिरीश चंद्र यादव के निर्देश पर मंगलवार को यहां अतिक्रमण हटाया जाना था। अतिक्रमण हटाने के लिए प्रशासन, नगर निगम, वीडीए व पुलिस की संयुक्त टीमों का गठन तो हुआ लेकिन  अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू होने से पहले ही नगर निगम ने हाथ खड़े कर दिए। मोहर्रम के कारण पुलिस सुरक्षा न मिलने का हवाला देकर इसे आगे के लिए टाल दिया।

वहीं धनरेसरा तालाब की भूमि पर अतिक्रमण करने वाले पक्ष का एक व्यक्ति नगर निगम की जेसीबी मंगवा कर  पत्थर के टुकड़ों को तालाब में डलवाने लगा। इसकी भनक मिलते ही विश्व हिन्दू परिषद के कार्यकर्ता सत्येंद्र सिंह के नेतृत्व में मौके पर पहुंच गए। वहां उन्होंने देखा कि तालाब को तेजी से पटवाया जा रहा है। विहिप कार्यकर्ताओं नेपहले जेसीबी बंद कराई और फिर उसके ऑपरेटर से पूछताछ शुरू कर दी। पहले तो उसने कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया, बाद में उसने कुबूल किया किया कि वह पास में मलबा हटाने आया था। वहीं सज्जाद नामक एक व्यक्ति ने आकर उसे यहां आने के लिए कहा। विरोध को देखते हुए चालक जेसीबी लेकर लौट गया। 

विहिप के सत्येंद्र सिंह, अर्जुन मौर्य, केवल कुशवाहा, दयाशंकर त्रिपाठी, रामेन्द्र पाण्डेय, अजय सिंह, अमित श्रीवास्तव ने नगर निगम पर आरोप लगाया कि अधिकारी अतिक्रमण के आरोपितों से  मिले हुए हैं। तालाब की भूमि पर बने 17 मकानों का पीला कार्ड निरस्त होने के बाद भी अतिक्रण हटवाने के बजाय अधिकारी तालाब पटवाने के आरोपितों की मदद कर रहे हैं।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Action taken to remove encroachment by Dhanesra pond