DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › उन्नाव › एक बीघा 6 विस्वा भूमि बनी विवाद की वजह
उन्नाव

एक बीघा 6 विस्वा भूमि बनी विवाद की वजह

हिन्दुस्तान टीम,उन्नावPublished By: Newswrap
Wed, 01 Sep 2021 05:02 AM
एक बीघा 6 विस्वा भूमि बनी विवाद की वजह

उन्नाव। वरिष्ठ संवाददाता

विशंभर की बहन रामदेवी का विवाह औरास क्षेत्र के बहादुरपुर खंझड़ी गांव में सूरज के बेटे पप्पू के साथ हुआ था। पप्पू के नाम 1 बीघा 6 विस्वा भूमि का पट्टा हुआ था। पिता सूरज और चाचा बाबूलाल भूमि की मांग करने लगे। रामदेवी ने भूमि देने से इनकार कर दिया। इस पर बाबूलाल ने कहा कि लेखपाल से मिलकर भूमि उसने पट्टा कराई थी। इस समझौते की स्थिति में रामदेवी और पप्पू आधी भूमि देने को तैयार हुए पर सूरज और बाबूलाल तैयार नहीं हुए।

इसी भूमि को लेकर विवाद था। कुछ दिन बाद रामदेवी पति के साथ अलग रहने लगीं। विशंभर दयाल के कोई संतान नहीं है, इसलिए वह रामदेवी के अलावा दूसरी बहन का भी ख्याल करते थे। अगस्त 2019 में बाबूलाल का पप्पू के घरवालों से विवाद हो गया। 10 अगस्त 2019 में बाबूलाल ने पुलिस में तहरीर देकर निजी सचिव विशम्भर, पप्पू पुत्र सूरज, गुड्डू, छोटू, मोनिका, रामदेवी पर रिपोर्ट दर्ज करा दी। बाबूलाल ने विशंभर का सिर्फ इसलिए नामजद किया, क्योंकि वह बहन की पैरवी करते थे।

मामले में विवेचना के दौरान पुलिस ने रामदेवी और विशंभर का नाम निकाल दिया मगर जब भी विवाद होता दूसरे पक्ष के लोग विशंभर को नामजद कर देते थे। इसके बाद नाम हटवाने के लिए विशंभर को थाने का चक्कर काटना पड़ता था।

संबंधित खबरें