DA Image
20 अक्तूबर, 2020|10:59|IST

अगली स्टोरी

नहीं सजेंगे दुर्गापूजा पंडाल, घरों में पूजन की अपील

default image

फोटो संख्या 1, शहर के मोतीनगर मोहल्ला स्थित रीडिंग क्लब में होती थी सार्वजनिक मां दुर्गा की बंगाली पूजाउन्नाव। हिन्दुस्तान संवाद कोरोना संक्रमण से बचाव के मद्देनजर सरकार ने शारदीय नवरात्र पर जिले में लगने वाले सार्वजनिक मां दुर्गा पूजा पंडालों को लगाए जाने पर रोक लगा रखी है। छह माह के अंतर्गत पड़ने वाले सभी पर्वो पर लोगों से घरों में ही पूजा व इबादत की गई है। संक्रमण को लेकर चैत नवरात्र पर लॉक डाउन होने से मंदिरों तक के कपाट बंद थे। सरकार से पूजा पंडालों पर रोक लगाए जाने पर आयोजकों का मानना है कि संक्रमण लगातार बढ़ ही रहा है। प्रशासन की गाइड लाइन के मुताबिक इस बार शारदीय नवरात्र पर सार्वजनिक मां दुर्गा के पूजा पंडाल नहीं लगाए जाएंगें। उधर, आयोजकों से इस बार पड़ने वाले नवरात्र पर लोगों से घरों में ही पूजन व अर्चन किए जाने की अपील की जा रही है। इनसेट कानपुर से मूर्तियां लाई जाती थीं 17 से 25 अक्तूबर तक शारदीय नवरात्र हैं। 25 को विजय दशमी का पर्व मनाया जाएगा। सार्वजनिक मां दुर्गा पूजा आयोजकों के मुताबिक कानपुर से मां दुर्गा व अन्य देवी देवताओं की मूर्तियां खरीद कर लाने के बाद पंडालों में विराजमान किया जाता था। छह माह से मंदिरों के कपाट बंद होने से लोगों से घरों में ही पूजन अर्चन किया जा रहा है। रोक लगाए जाने से इस बार जिले के दुकानदार कानपुर से छोटी छोटी मूर्तियों को लाकर सड़क किनारे दुकान लगाकर बिक्री करते हैं।इनसेटपंडाल और होती है मूर्ति स्थापना-शहर के मोतीनगर मोहल्ला स्थित रीडिंग क्लब में होती है बंगाली पूजा-शहर के आवास विकास कालोनी में पूजा उत्सव-गांधीनगर स्थित आनंदेश्वर महादेव मंदिर परिसर व फाटक में लगता था पंडालआयोजकों की प्रतिक्रियाप्रशासन की गाइड लाइन के मुताबिक इस बार रीडिंग क्लब में पंडाल लगाकर बंगाली पूजन नहीं किया जाएगा। शहर में रहने वाले बंगाली घरों में छोटी मूर्तियों को विराजमान कर पूजा अर्चना करेंगे।फोटो संख्या 2, अमिताभ बनर्जीछह माह से कोरोना संक्रमण के बचाव के चलते सभी पर्व घरों में ही मनाए जा रहे हैं। पंडाल नहीं लगाया जाएगा और भक्त इस बार घरों में ही पूजन करने की अपील की है। फोटो संख्या 3, बलदेवरामलीला के आयोजन पर छूट और दुर्गा पूजा पर रोक लगाया जाना समझ के परे है। पंडाल में सार्वजनिक पूजा पर रोक के चलते कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया है। भक्त अपने घरों में पूजा अर्चना करें।फोटो संख्या 4, बऊवा अवस्थी

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Durgapuja pandal will not decorate appeals for worship in homes