DA Image
1 जुलाई, 2020|5:30|IST

अगली स्टोरी

चार दिन से प्यासी है 7 हजार की आबादी

default image

4 सैकड़ा कनेक्शन धारक उपभोक्ताओं को होती है जलापूर्ति

फोटो संख्या-26,सिकंदरपुर कर्ण की पानी की टंकी मोटर खराब होने से सप्लाई नहीं हो रहा पानी

अचलगंज। हिन्दुस्तान संवाद

नागरिकों को शुद्धपेयजल उपलब्ध कराने के इरादे से सिकंदरपुर कर्ण कस्बे में पानी की टंकी बनवाई गई है। मगर पिछले चार दिनों से टंकी से पेयजल सप्लाई नहीं हो पा रहा है। जिससे क्षेत्र की सात हजार लोगों के सामने पानी की दिक्कते हैं।

सिकंदरपुर कर्ण कस्बे में एक दसक पहले से पानी की टंकी स्थापित है। यहां से रावतपुर, अकबरपुर, गांव के लगभग 4 सैकड़ा कनेक्शन धारक उपभोक्ताओं को जलापूर्ति होती है। एक साल के अंदर रविवार को तीसरी बार पानी की टंकी की मोटर खराब हो गई। मोटर खराब होने से इससे जुड़े तीनों गावों के तकरीबन 7 हजार की आबादी पानी के संकट से गुजर रही है। यहां के लोग कुआं तथा हैंडपंपों से पानी पीने को मजबूर हैं। ग्रामीणों ने बताया कि इन गांवों में प्र्रदूषित पानी की बड़ी समस्या है। ग्रामीणों ने जलनिगम को सूचना दी मगर अधिकारी मरम्मत का कार्य ग्राम पंचायत से करवाने की बात कह रहे हैं। ग्राम प्रधान रेखा तिवारी ने बताया कि मोटर ठीक करवाने के लिए भेजा गया है।

प्रतिक्रिया

हमेशा घटिया किस्म की मोटर लगा दी जाती है। यह साल में तीसरी बार खराब हुई है। अगर नई मोटर लगा दी जाए तो यह समस्या समाप्त हो जाएगी

फोटो संख्या-27 सत्यम

चार दिनों से एक एक बूद को तरस रहे हैं। एक बाल्टी पानी के लिए हैंडपंप पर घंटों इंतजार करना पड़ता है।

फोटो संख्या-28,रामू

गरीब को शुद्धपेयजल भी नहीं मिल पा रहा है। जिनके पास पैसा है सबमर्सिबल लगा रखा है। हम लोगों का यही सहारा है।

फोटो संख्या-29 जाहिरा

तीन दशक पुरानी पेयजल टंकी जर्जर है। यहां आए दिन कोई न काई समस्या लगी ही रहती है। आपूर्ति नहीं हो पा रही है।

फोटो संख्या-30,अनिल त्रिवेदी

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:A population of 7 thousand is thirsty for four days