ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशपबजी में हारने के बाद युवक का उड़ाने लगे मजाक, विरोध करने पर दोस्तों ने पीट-पीटकर मार डाला

पबजी में हारने के बाद युवक का उड़ाने लगे मजाक, विरोध करने पर दोस्तों ने पीट-पीटकर मार डाला

मुरादाबाद में पबजी खेल रहे साथियों ने गेम हार गए युवक का मजाक उड़ाया। जब उसने विरोध किया साथियों ने गाली-गलौज की फिर उसे लाठी-डंडों से पीट दिया। गंभीर रूप से घायल युवक की इलाज के दौरान मौत हो गई।

पबजी में हारने के बाद युवक का उड़ाने लगे मजाक, विरोध करने पर दोस्तों ने पीट-पीटकर मार डाला
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,मुरादाबादFri, 14 Jun 2024 10:48 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के मुरादाबाद में पबजी खेल रहे साथियों ने गेम हार गए युवक का मजाक उड़ाना शुरू कर दिया। विरोध करने पर आरोपियों ने गाली-गलौज शुरू कर दी। बात बढ़ने पर लाठी-डंडों से हमला कर उसे मरणासन्न कर दिया। घायल को टीएमयू में भर्ती कराया गया, जहां शुक्रवार सुबह उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। उसकी मौत के बाद से परिवार में कोहराम मचा है। मामले में पुलिस ने पहले चारों आरोपियों पर जानलेवा हमले का केस दर्ज किया था। अब उसे गैरइरातन हत्या में तरमीम कर दिया है। पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

पाकबड़ा थाना क्षेत्र के गांव हाशमपुर गोपाल रहने वाला 22 साल का सुरेंद्र मजदूरी करता था। वह चार भाई-बहनों में सबसे छोटा था। पिता धर्मपाल सिंह के अनुसार गुरुवार दोपहर करीब डेढ़ बजे सुरेंद्र गांव में चौराहे पर खड़ा था। तभी पड़ोसी जोगराज, सनी, तीरथ और राजू उर्फ भीमा ने उसे बुला लिया। इसके बाद जोगराज और सुरेंद्र मोबाइल में पबजी खेलने लगे। पबजी खेलने के दौरान सुरेंद्र हार गया था। इस पर जोगराज और तीनों अन्य आरोपियों ने उसका मजाक उड़ाना शुरू कर दिया। हंसी मजाक से चिढ़ कर सुरेंद्र ने ऐसा करने से मना किया तो आरोपियों ने गाली गलौज शुरू कर दी। आरोप है कि विरोध करने पर चारों ने लाठी-डंडे और धारदार हथियार से सुरेंद्र के ऊपर हमला कर उसे गंभीर घायल कर दिया। बाद में मरणासन्न हालत में उसे छोड़कर चारों भाग निकले। 

सूचना पाकर मौके पर पहुंच कर परिजनों ने पुलिस को घटना की जानकारी दी और घायल को जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां से उसे पहले कॉसमॉस और फिर टीएमयू में भर्ती कराया गया। जहां उपचार के दौरान शुक्रवार सुबह सुरेंद्र ने दम तोड़ दिया। उसकी मौत की सूचना के बाद परिवार में कोहराम मच गया। एएसपी अमरिंदर सिंह ने खुद घटनास्थल पर पहुंच कर निरीक्षण किया। पुलिस ने शुक्रवार दोपहर पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया। इस संबंध में पाकबड़ा थाने के एसएसआई सुधीर कुमार ने बताया कि मरने वाले के भाई की तहरीर पर आरोपी जोगराज, सनी, तीरथ और राजू उर्फ भीम के खिलाफ गुरुवार को ही जानलेवा हमले का केस दर्ज किया गया था। मौत के बाद अब उसे गैरइरादतन हत्या में तरमीम कर दिया गया है। पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। उधर, वारदात के बाद से चारों आरोपी घर में ताला डालकर फरार हो गए हैं। पुलिस उनकी तलाश में संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है। 

पहले एक ही भट्ठे पर मजदूरी करते थे मृतक और आरोपी

पुलिस की प्रारंभिक जांच में पता चला है कि जान गंवाने वाला सुरेंद्र कुछ समय पहले भट्ठे पर मजदूरी करता था। उसी भट्ठे पर चारों आरोपी भी मजदूरी करते थे। वहां काम करने के दौरान भी दो बार दोनों पक्षों में विवाद हो गया था। उस समय भी आरोपियों ने सुरेंद्र के साथ मारपीट की थी, हालांकि बाद में समझा-बुझाकर मामला शांत करा दिया गया था। 

शव लेकर थाने पर पहुंचे परिजन, आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग

पुलिस ने शुक्रवार दोपहर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया, लेकिन पोस्टमार्टम हाउस से शव लेकर परिजन सीधे थाने पर पहुंच गए। वहां आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर हंगामा कर दिया। कहा कि जब तक आरोपी पकड़े नहीं जाएंगे तब तक वह लोग वहां से नहीं हटेंगे। बाद में पुलिस ने किसी तरह समझा-बुझाकर परिवार वालों को शांत कराया। इसके बाद परिजन शव लेकर घर गए और अंतिम संस्कार किया।