ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशमहाकुंभ की ग्लोबल ब्रांडिंग के लिए गैर सरकारी एजेंसियों से मदद लेगी योगी सरकार, सोशल मीडिया कॉन्क्लेव का होगा आयोजन

महाकुंभ की ग्लोबल ब्रांडिंग के लिए गैर सरकारी एजेंसियों से मदद लेगी योगी सरकार, सोशल मीडिया कॉन्क्लेव का होगा आयोजन

योगी सरकार ने अगले साल होने वाले महाकुंभ को लेकर अभी से तैयारी शुरू कर दी है। ग्लोबल ब्रांडिंग करने के लिए सरकारी एजेंसियों के साथ गैर सरकारी एजेंसियों का भी सहयोग लेगी।

महाकुंभ की ग्लोबल ब्रांडिंग के लिए गैर सरकारी एजेंसियों से मदद लेगी योगी सरकार, सोशल मीडिया कॉन्क्लेव का होगा आयोजन
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,लखनऊSun, 11 Feb 2024 10:08 PM
ऐप पर पढ़ें

योगी सरकार प्रयागराज में अगले साल होने वाले महाकुंभ की ग्लोबल ब्रांडिंग करने और उसे समावेशी रूप देने के लिए बड़े फैसले ले रही है। यूपी सरकार महाकुंभ से अधिक से अधिक लोगों को जोड़ने के लिए सरकारी एजेंसियों के साथ गैर-सरकारी एजेंसियों का भी सहयोगी लेगी। इसके लिए सोशल मीडिया कॉन्क्लेव का आयोजन किया जाएगा।

महाकुंभ के आयोजन में अभी तक सरकारी एजेंसियों के विचार ही समाहित होते थे लेकिन अब योगी सरकार इससे एक कदम आगे जाकर गैर सरकारी एजेंसियों को भी इसमें शामिल करना चाहती है। प्रयागराज की क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी अपराजिता सिंह बताती हैं कि पर्यटन विभाग अधिक से अधिक लोगों को महाकुंभ से जोड़ना चाहता है। उनका यह भी कहना है कि हर किसी के पास एक बहुत बेहतर आइडिया होता है और हो सकता है कि वह अब तक सरकार तक न पहुंच पाया हो। ऐसे लोगों के  महाकुम्भ से जुड़े आइडिया को सरकार के साथ साझा करने के लिए पर्यटन विभाग एक प्रतियोगिता का आयोजन करेगा, जिसमें लोगों के कुम्भ के आयोजन से जुड़े आईडिया मांगे जाएंगे। इस प्रतियोगिता में सबसे अलग आइडिया देने वाले लोगों को पर्यटन विभाग प्रोत्साहित करेगा।  उनका यह आइडिया महाकुम्भ के आयोजन का अंग भी बनेगा।

ग्लोबल रीच बढ़ाने के लिए सोशल मीडिया कॉन्क्लेव का आयोजन

महाकुंभ के आयोजन से पूर्व प्रयागराज में पर्यटन स्थलों की ब्रांडिंग और पब्लिसिटी के लिए पर्यटन विभाग कई तरह की तैयारियां कर रहा है। इसके लिए ‘सोशल मीडिया कॉन्क्लेव’ का आयोजन किया जा रहा है। मार्च में दो दिवसीय कॉन्क्लेव का आयोजन किया जाएगा, जिसके लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया है। इसमें सबसे पहले स्थानीय सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर के साथ कॉन्क्लेव किया जाएगा, जिसके बाद ग्लोबल रीच वाले इन्फ्लुएंसर के साथ कॉन्क्लेव होगा। साथ ही देशभर के पर्यटन केंद्रों से टूर ऑपरेटरों को भी इसमें आमंत्रित किया जा रहा है। उनसे महाकुम्भ में पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए उनके विचार मांगे जायेंगे। होटल उद्यमियों को भी इसमें आमंत्रित किया गया है। इन सभी आगंतुकों से एक तरफ जहां पर्यटकों के लिए आवश्यक सुविधाओं के प्रस्ताव मांगे जायेंगे, वहीं इसकी आपूर्ति में अभी तक की कमियों की समीक्षा भी की जाएगी। 

सोशल मीडिया के जरिये शहर को दिलाएंगे स्वच्छता की बेहतर रेटिंग  

जन सरोकार से जुड़े अभियानों की पहुंच जन-जन तक पहुंचाने के लिए सोशल मीडिया की उपयोगिता सर्व विदित है। स्वच्छ सर्वेक्षण में प्रयागराज की स्थिति में सुधार की बात हो या फिर अगले वर्ष महाकुंभ से पहले शहर की स्वच्छता को दुरुस्त करना, इसके लिए स्थानीय नागरिकों को भी जागरूक करना जरूरी है। 

नगर निगम प्रयागराज के नगर आयुक्त चंद्र मोहन गर्ग ने बताया कि इसी आवश्यकता को देखते हुए नगर निगम स्वच्छता अभियान के लिए सोशल मीडिया का सहयोग लिया जा रहा है। दो दर्जन से अधिक सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर के साथ उनकी एक बैठक भी हो चुकी है, जिसके बाद शहरवासी जल्द ही सोशल साइट्स पर शहरी गतिविधियों के साथ शहर की सफाई व्यवस्था को देख सकेंगे। सोशल मीडिया साइट्स पर सक्रिय युवा शहरवासियों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करेंगे। रील और सोशल साइट्स के अन्य माध्यमों से शहरवासियों को जागरूक किया जाएगा ताकि महाकुंभ के पहले शहर की स्वच्छता में रेटिंग बेहतर किया जा सके।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें