ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशमुख्यमंत्री युवा उद्यमी विकास अभियान शुरू करेगी योगी सरकार, युवाओं को बिना ब्याज के मिलेगा लोन 

मुख्यमंत्री युवा उद्यमी विकास अभियान शुरू करेगी योगी सरकार, युवाओं को बिना ब्याज के मिलेगा लोन 

सीएम योगी की महत्वाकांक्षी योजना 'मु़ख्यमंत्री युवा उद्यमी विकास अभियान (MYUVA)' प्रदेश में जल्द शुरू होने जा रही है। इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (MSME)...

मुख्यमंत्री युवा उद्यमी विकास अभियान शुरू करेगी योगी सरकार, युवाओं को बिना ब्याज के मिलेगा लोन 
Dinesh Rathourविशेष संवाददाता,लखनऊSun, 03 Mar 2024 11:20 PM
ऐप पर पढ़ें

सीएम योगी की महत्वाकांक्षी योजना 'मु़ख्यमंत्री युवा उद्यमी विकास अभियान (MYUVA)' प्रदेश में जल्द शुरू होने जा रही है। इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (MSME) विभाग के अधिकारियों को जल्द से जल्द पूरी कार्ययोजना तैयार कर उनके समक्ष प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं। प्रदेश के युवाओं में उद्यमशीलता को बढ़ावा देने के लिए योगी सरकार इस योजना के जरिए प्रतिवर्ष एक लाख युवा उद्यमियों को तैयार करेगी। इसके लिए सरकार की ओर से पांच लाख तक की परियोजनाओं के लिए ब्याजमुक्त ऋण प्रदान किया जाएगा। योगी सरकार ने बजट 2024-25 में इस योजना के लिए एक हजार करोड़ रुपये का प्रावधान भी कर दिया है।   

प्रदेश के शिक्षित व प्रशिक्षित युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने और नए एमएसएमई की स्थापना के साथ ही ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में रोजगार सृजन के उद्देश्य से योगी सरकार की ये एक नई पहल है। इस योजना के तहत उद्योग एवं सेवा क्षेत्र की अधिकतम 5 लाख रुपये तक की परियोजना को ब्याज मुक्त ऋण प्रदान किया जाएगा। इस स्वरोजगार मिशन के अंतर्गत प्रतिवर्ष 1,00,000 इकाइयों को वित्त पोषित कर आगामी 10 वर्षों में एक मिलियन (10 लाख) यूनिट्स को सीधे-सीधे लाभान्वित करने का लक्ष्य है। 

सरकार द्वारा संचालित विभिन्न प्रशिक्षण योजनाओं जैसे विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना, एक जनपद एक उत्पाद प्रशिक्षण एवं टूलकिट योजना, अनुसूचित जाति, जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग प्रशिक्षण योजना, उत्तर प्रदेश स्किल्ड डेवलपमेन्ट मिशन द्वारा संचालित कौशल उन्नयन आदि में प्रशिक्षित लाभार्थियों को इसका लाभ मिल सकेगा। इसके अलावा किसी विद्यालय, शैक्षणिक संस्थान से सर्टिफिकेट कोर्स, डिप्लोमा एवं डिग्रीधारी युवाओं को भी इस योजनां के अंतर्गत लाभ प्रदान किया जाएगा। 

योजना के तहत कोई यूनिट प्रथम लोन का सफल भुगतान कर देती है तो उसके उपरांत सेकेण्ड स्टेज के वित्तपोषण के लिए वह पात्र होगी, जिसमें प्रथम स्टेज के लोन का दुगना या अधिकतम 7.50 लाख रुपये तक का कम्पोजिट लोन उसे दिया जा सकेगा। इसके साथ ही डिजीटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने के लिए अनुदान की भी व्यवस्था की गई है। योजना के आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की स्पष्ट मंशा है कि युवाओं में उद्यमशीलता को बढ़ावा देकर नये नये स्टार्टअप्स को मजबूत आधार प्रदान किया जाए।  

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें