अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

योगी-गडकरी कानपुर में आज करेंगे नमामि गंगे के कार्यों की समीक्षा

मुख्यमंत्री योगी अादित्यनाथ के साथ केंद्रीय जल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी। (फाइल फोटो)

कानपुर समेत सूबे के सात शहरों में हो रहे नमामि गंगे के कार्यों की समीक्षा सोमवार को यहां केडीए के मीटिंग हॉल में होगी। इससे पहले सीएम योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय जल संसाधन मंत्री नितिन गडकरी सीएसए में बीस घाटों के सुंदरीकरण का लोकार्पण करेंगे। 
लोकार्पण की सूची में शामिल दस घाट जाजमऊ से भैरो घाट तक हैं जबकि दस घाट बिल्हौर में बनाए गए हैं। लोकार्पण का कार्यक्रम सीएसए में होगा। वहीं बनाए गए पंडाल में जनसभा भी होगी। वहां से दोनों नेता समीक्षा बैठक के लिए केडीए जाएंगे। केडीए में आवंटियों की सुविधा के लिए मंगाए गए दो क्यॉस्क पर भी अंगुलियां रखेंगे। ऐसा करते ही आवंटियों की प्रापर्टी क्यॉस्क पर खुलने लगेगी। बाबुओं का चक्कर आवंटियों को नहीं लगाना पड़ेगा। 
कन्नौज, फर्रूखाबाद, मथुरा, वाराणसी, मिर्जापुर, इलाहाबाद और कानपुर में हो रहे कार्यों की समीक्षा होगी। इसके लिए इन जिलों से भी ठेकेदारों को बैठक में बुलाया गया है। एनएमसीजी के साथ ही जल निगम के उच्चाघधिकारी भी जवाब देंगे। फिलहाल एनएमसीजी के डीजी राजीव रंजन मिश्रा भी यहां पहुंच चुके हैं। प्रमुख सचिव नगर विकास एवं सचिव नगर विकास ने प्रशासनिक तैयारियों का जायजा लिया। इससे पहले यहां एनएमसीजी के अधिशासी निदेशक परियोजना हितेश कुमार और जल निगम के प्रबंध निदेशक अनिल कुमार श्रीवास्तव ने भी परियोजनाओं को देखा और जानकारी रिपोर्ट तैयार की। 
नमामि गंगे के डीजी गंगा बैराज के किनारे 9 करोड़ की लागत से बनाए जा रहे नए घाट को भी देखने के लिए पहुंचे। फिलहाल संभावना यह भी है कि सीएम को इस घाट तक ले जाने की कोशिश हो। यह भी संभव है कि नितिन गडकरी ही यहां जाएं। इसे देखते हुए डीजी ने ईआईएल के पदाधिकारियों से सुंदरीकरण के कार्य के बारे में जानकारी ली। जल निगम के महाप्रबंधक राकेश अग्रवाल और गंगा प्रदूषण एवं नियंत्रण इकाई के परियोजना अधिकारी घनश्याम द्विवेदी ने अधिकारियों को बताया कि कहां-कहां किस तरह कार्य हो रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Yogi-Gadkari will review the works of Namami Gange today in Kanpur