DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › योगी मंत्रिमंडल का विस्तार आज, शाम 6 बजे जितिन प्रसाद समेत सात नए मंत्री लेंगे शपथ
उत्तर प्रदेश

योगी मंत्रिमंडल का विस्तार आज, शाम 6 बजे जितिन प्रसाद समेत सात नए मंत्री लेंगे शपथ

लाइव हिन्दुस्तान टीम ,लखनऊPublished By: Deep Pandey
Sun, 26 Sep 2021 11:15 PM
योगी मंत्रिमंडल का विस्तार आज, शाम 6 बजे जितिन प्रसाद समेत सात नए मंत्री लेंगे शपथ

UP Cabinet Expansion Latest News: आगामी विधानसभा चुनाव से ठीक पहले उत्तर प्रदेश की योगी सरकार अपने कैबिनेट का विस्तार करने जा रही है। यूपी मंत्रिमंडल का विस्तार आज शाम को हो जाएगा। प्राप्त सूचना के मुताबिक, आज शाम छह बजे सात नए मंत्री कैबिनेट में शामिल किए जाएंगे। मंत्रिमंडल विस्तार में जिन संभावित नामों की चर्चा है, उनमें जतिन प्रसाद को छोड़कर बाकी छह नाम दलित और पिछड़ा वर्ग से हैं।

कुछ समय पहले कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए जितिन प्रसाद के अलावा पलटू राम, संजय कुमार गोंड उर्फ संजय गोंड, संगीता बिंद, दिनेश खटीक, धर्मवीर प्रजापति और छत्रपाल गंगवार के मंत्री पद की शपथ लेने की संभावना है। यही नहीं कुछ मंत्रियों को बाहर किए जाने की भी खबर है। फिलहाल, राज्य सम्पत्ति अधिकारी के राजभवन पहुंचे हैं।

दरअसल, भाजपा की कोर कमेटी की बैठक 2 सितंबर को देर शाम तक मुख्यमंत्री आवास पर चली थी। इस बैठक में राज्यपाल के मनोनयन कोटे से बनने वाले चार विधान परिषद सदस्यों, मंत्रिमंडल के बहुप्रतीक्षित विस्तार के अलावा पार्टी के आगामी चुनावी कार्यक्रमों को लेकर गहन चर्चा हुई। इस बैठक  में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा भी मौजूद रहे। बैठक में पार्टी के विभिन्न मोर्चों के सम्मेलनों सहित अन्य कार्यक्रमों पर बात हुई।

एमएलसी चुनाव के लिए भी नाम लगभग तय हुए। मंत्रिमंडल में शामिल होने वालों के नाम भी प्रदेश स्तर से तय करके पार्टी हाईकमान को भेज दिए गए थे। हालांकि उसमें एकाध नाम पर अभी सहमति नहीं बन पाई थी। इसके बाद प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह लखनऊ पहुंचे और पार्टी की गतिविधियां तेज हो गईं।

अब तक जो कैबिनेट की लिस्ट सामने आई है, उसमें माना जा रहा है कि गोंडा-बलरामपुर से पल्टूराम, जितिन प्रसाद, संजय गौड़, संगीता बिंद, दिनेश खटीक, धर्मवीर प्रजापति व छत्रपाल गंगवार योगी सरकार में नए मंत्री के रूप में शपथ ले सकते हैं।

दलित और पिछड़ों पर फोकस

बीजेपी नेता ने कहा, "ओबीसी और दलितों पर फोकस होगा।"  जाहिर है अब जब चुनाव में महज कुछ ही महीने बचे हैं तो नए मंत्रियों के चुनाव में उनकी जाति अहम भूमिका अदा करेगी।

कुछ चेहरे पश्चिमी यूपी होंगे, जहां नए कृषि कानूनों को लेकर आंदोलन का प्रभाव है। किसानों ने समवार को भारत बंद का आह्वान भी किया है। जनवरी में एमएलसी बनाए गए धर्मवीर प्रजापति,  बेहड़ी विधानसभा क्षेत्र से दूसरी बार विधायक बने छत्रपाल सिंह गंगवार मंत्री बनने की रेस में शामिल हैं।

सोनभद्र के ओबरा से विधायक संजय गोंड अनुसूचित जनजाति से हैं और इनका दावा काफी मजबूत माना जा रहा। उत्तराखंड के राज्यपाल के पद से इस्तीफा देने के बाद बेबी रानी मौर्य को बीजेपी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया गया है। बेबी रानी मौर्य ने शनिवार की रात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की है, जिसके बाद से मंत्री पद के लिए उनका भी नाम चल रहा है। इसके अलावा संगीता बिंद, हस्तिनापुर के विधायक दिनेश खटीक भी अनुसूचित जाति से ताल्लुक रखते हैं।

संबंधित खबरें