ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशयोगी सरकार ने यूपी के 15 शहरों में सस्‍ते में भोजन का किया ये इंतजाम, निजी बैंक से हुआ करार

योगी सरकार ने यूपी के 15 शहरों में सस्‍ते में भोजन का किया ये इंतजाम, निजी बैंक से हुआ करार

योगी आदित्‍यनाथ सरकार ऐसी व्यवस्था करने जा रही है कि शहरों में कम कीमत पर जरूरतमंदों का पेट भर सके। प्रदेश के 15 शहरों में 25 ‘शक्ति रसोई’ खोले की दिशा में नगर विकास विभाग ने एक कदम और बढ़ा दिया है।

योगी सरकार ने यूपी के 15 शहरों में सस्‍ते में भोजन का किया ये इंतजाम, निजी बैंक से हुआ करार
Ajay Singhविशेष संवाददाता,लखनऊSun, 25 Feb 2024 07:04 AM
ऐप पर पढ़ें

Shakti Kitchen in UP: योगी आदित्‍यनाथ सरकार ऐसी व्यवस्था करने जा रही है कि शहरों में कम कीमत पर जरूरतमंदों का पेट भर सके। इसके लिए प्रदेश के 15 शहरों में 25 ‘शक्ति रसोई’ खोले की दिशा में नगर विकास विभाग ने एक कदम और बढ़ा दिया है। इसके लिए एक निजी बैंक से करार हुआ है। इन शहरों में इसकी सफलता के बाद प्रदेश के बड़े पालिका परिषद वाले शहरों में इसे खोला जाएगा।

शक्ति रसोई की स्थापना आईसीआईसीआई फाउंडेशन के सहायोग से की जाएगी। इसके लिए करार जल्द हुआ है। इसके साथ ही किचन उपकरण व अन्य सामग्री, ब्रांडिंग और समूह की महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसमें उन्हें बताया जाएगा कि खाना कैसे बनाया जाएगा और कैसे इसका संचालन होगा। पहले चरण में लखनऊ, गोरखपुर, वाराणसी, आगरा और प्रयागराज में खोला जाएगा। इसके साथ ही झांसी, कानपुर नगर, मुरादाबाद, अयोध्या, आजमगढ़, कन्नौज, देवरिया, हरदोई, मऊ और सोनभद्र में खोला जाएगा। पहले चरण में दो से तीन स्थानों पर इसे खोला जाएगा और धीरे-धीरे सभी प्रमुख स्थानों पर इसे खोला जाएगा। इसका प्रचार-प्रसार भी किया जाएगा, जिससे लोगों को यह जानकारी मिल सके कि शक्ति रसोई में किस दिन क्या खाना मिलेगा और उसकी कीमत क्या होगी?

महिलाएं आर्थिक रूप से स्वावलंबी बनेंगी
राज्य सरकार शहरी महिलाओं को आर्थिक रूप से स्वावलंबी बनाना चाहती है। इसके लिए शहरी क्षेत्रों में गठित महिला स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से इसे चलाया जाएगा। पहले चरण में जो महिलाएं जुड़ी हैं उनके माध्यम से इसे चलाया जाएगा और धीरे-धीरे और भी महिलाओं को इसके साथ जोड़ा जाएगा। नगर विकास विभाग का मानना है कि इस अनुभव प्रयोग से शहरों में लोगों को कम कीमत पर खाना मिलेगा और महिलाओं के लिए रोजगार के द्वार खुलेंगे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें