DA Image
31 अक्तूबर, 2020|1:11|IST

अगली स्टोरी

युवती ने दरोगा को किया ब्लैकमेल, हड़पे डेढ़ लाख रुपये

प्रतीकात्मक तस्वीर

महानगर वायरलेस हेडक्वार्टर में तैनात दरोगा की मुलाकात कानपुर रेलवे स्टेशन पर एक युवती से हुई। बातचीत बढ़ी तो युवती ने दरोगा को लुभावनी स्कीम का झांसा दिया। बातों में फंस कर दरोगा ने जालसाज युवती को रुपये दे दिए। वहीं रसीद देने के बहाने से युवती कानपुर से लखनऊ दरोगा के घर पहुंची। जहां उसने दरोगा पर 50 हजार रुपये देने का दबाव बनाया। जब उन्होंने मना किया तो युवती ने रेप का आरोप लगा कर जेल भिजवाने की बात कही। 

डर के मारे दरोगा ने युवती को डेढ़ लाख रुपये दे दिए। मगर युवती उन्हें ब्लैकमेल करती रही। कोई रास्ता नहीं निकलता देख दारोगा ने महानगर कोतवाली में एफआईआर दर्ज कराई है। कानपुर स्टेशन की मुलाकात पड़ी भारी: कुछ माह पहले दरोगा राजेश कुमार सिंह ट्रेनिंग के लिए दिल्ली गए थे। वापस लौटते वक्त ट्रेन कानपुर स्टेशन पर रुकी तो वह नीचे उतरे। इसी बीच उनकी मुलाकात विधूना निवासी गुड़िया से हुई। गुडिया ने दारोगा को बताया कि 10 हजार रुपये जमा करने पर एक साल बाद 15 हजार रुपए मिलेंगे। मगर उस वक्त दारोगा ने स्कीम में रुपए लगाने से मना कर दिया। 

इस पर गुड़िया ने राजेश से उनका मोबाइल नंबर ले लिया। स्कीम का दिया झांसा: माघ मेले में राजेश की ड्यूटी लगी थी। उसी दौरान गुड़िया ने उनको कई बार फोन कर स्कीम में रुपये इंवेस्ट करने को कहा। मगर रुपयों की दिक्कत होने के चलते उन्होंने मना कर दिया। इस पर गुड़िया ने बातचीत करते हुए उनके घर का पता हासिल कर लिया। कुछ दिनों बाद वह दरोगा के घर पहुंच गई। जहां गुड़िया ने दबाव बनाकर राजेश से 10 हजार रुपये ले लिए। 

वहीं, राजेश ने रुपये देने के बदले रसीद मांगी तो गुड़िया ने कहा कि बिधुना जाकर रसीद भेज देगी। घर पहुंची युवती, लगाया रेप का आरोप: दरोगा से रुपए लेने के बाद रसीद देने के बहाने से गुडिया उसके घर पहुंच गई। जहां बातचीत के दौरान गुड़िया ने राजेश से 50 हजार रुपए और दीजिये तभी रसीद मिलेगी। राजेश को युवती पर कुछ शक हुआ तो उन्होंने गुडिया को घर से बाहर जाने के लिए कहा। 

इस पर उसने दारोगा से कहा कि अगर रुपए नहीं दोगे तो वह रेप के मामले में फंसा देगी। इतना कहने के बाद गुड़िया तेज आवाज में बात करने लगी। घर में परिवार के अन्य सदस्यों के मौजूद होने के कारण राजेश ने युवती से शांत रहने के लिए कहा। जिस पर वह जल्द रुपए नहीं देने पर अंजाम भुगतने की धमकी देकर चली गई। 

थाने पहुंचकर लिखाई एफआईआर

ब्लैकमेल किए जाने से आजिज आकर राजेश महानगर कोतवाली पहुंचे। जहां उन्होंने गुड़िया व राजू तिवारी के खिलाफ रंगदारी मांगने की एफआईआर दर्ज कराई। पुलिस इस मामले में जांच का रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:women blackmail policemen in lucknow