मुकदमे से नाम हटाने के लिए पांच हजार घूस लेते महिला दारोगा रंगे हाथ गिरफ्तार, निलंबित कर भेजी गई जेल

मुरादाबाद में दहेज उत्पीड़न के मामले से नाम हटाने के लिए पांच हजार घूस लेते महिला दारोगा को एंटी करप्शन टीम ने पकड़ा है। महिला दारोगा को निलंबित कर दिया गया है। कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है।

offline
मुकदमे से नाम हटाने के लिए पांच हजार घूस लेते महिला दारोगा रंगे हाथ गिरफ्तार, निलंबित कर भेजी गई जेल
Yogesh Yadav लाइव हिन्दुस्तान , मुरादाबाद
Tue, 21 Nov 2023 10:01 PM

दहेज उत्पीड़न और तीन तलाक के मामले में आरोपियों पर धाराएं कम करने के एवज में पांच हजार रुपये की घूस लेते गिरफ्तार की गई महिला दरोगा पिंकी शर्मा को मंगलवार को दोपहर बरेली कोर्ट में पेश किया गया। जहां से आरोपी महिला दरोगा को जेल भेज दिया गया। एसएसपी हेमराज मीना ने दरोगा को निलंबित कर दिया है। डिलारी थाना क्षेत्र के गांव बढेरा निवासी किसान हशमत अली ने एंटी करप्शन ब्यूरो में शिकायत की थी। इसमें उन्होंने बताया था कि मेरठ के परतापुर निवासी महिला दरोगा पिंकी शर्मा डिलारी थाने में तैनात है। हशमत अली ने बताया कि दहेज उत्पीड़न और तीन तलाक के केस से उनका नाम हटाने के लिए महिला दरोगा पिंकी शर्मा रिश्वत मांग रही हैं।

शिकायक के आधार पर एंटी करप्शन टीम ने पूरा प्लान तैयार किया। हशमत अली को तय योजना के अनुसार पांच हजार रुपये के साथ डिलारी थाने भेज दिया था। हशमत अली ने पांच हजार रुपये देते हुए कहा कि 20 हजार रुपये काम होने के बाद देंगे। महिला दरोगा पिंकी ने जैसे ही हशमत से रकम ली। इसी दौरान एटी करप्शन की टीम ने दारोगा को रंगे हाथ पकड़ लिया। जरूरी औपचारिकता पूरी करने के बाद दारोगा को गिरफ्तार कर लिया गया।

आरोपी दरोगा को टीम अपने साथ ले गई। मंगलवार को दारोगा को बरेली स्थित कोर्ट में पेश किया। जहां से दारोगा को जेल भेज दिया। वहीं विभाग की तरफ से भी महिला दारोगा पर कार्रवाई हुई है। एसएसपी हेमराज मीना ने बताया कि महिला दारोगा को निलंबित कर दिया गया है।

हमें फॉलो करें
ऐप पर पढ़ें

Moradabad Female Inspector UP Police Up News
होमफोटोवीडियोफटाफट खबरेंएजुकेशन