DA Image
18 जनवरी, 2021|8:07|IST

अगली स्टोरी

यूपी के मेडिकल कॉलेजों में जाड़े की छुट्टियां निरस्त, परीक्षा कार्यक्रम जारी

ayushman sahakar yojana loan for opening medical college budget is about 10 thousand crores

राज्य सरकार ने मेडिकल कालेजों व चिकित्सा संस्थानों में जाड़े की छुट्टियों को निरस्त कर दिया है। यह कदम एमबीबीएस की पढ़ाई शुरू कराने के लिए उठाया गया है। 

चिकित्सा शिक्षा विभाग ने गुरूवार को इस बारे में आदेश जारी कर कहा है कि कोरोना संक्रमण की वजह से मेडिकल कॉलेजों में शैक्षिक कार्य पूरी तरह से ठप रहा है जबकि बेहतर शिक्षा के लिए कक्षाओं में विशेषज्ञ शिक्षकों के माध्यम से पढ़ाई जरूरी है। इस के मद्देनजर सभी चिकित्सा संस्थानों, मेडिकल कॉलेजों में शीतकालीन अवकाश को निरस्त कर दिया गया है। अब शीतकालीन अवकाश की बची अवधि में पढ़ाई और इलाज सम्बंधी कार्य सामान्य दिनों की तरह ही पूरे किए जाएंगे।

आदेश में कहा गया है कि एमबीबीएस प्रथम वर्ष की कक्षाएं अगले वर्ष 02 फरवरी से शुरू होंगी। इस दौरान कोविड-१९ से बचाव के सभी नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा। परीक्षा कक्ष, हॉस्टल और एकेडेमिक ब्लॉक में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। प्रवेश द्वार पर स्कैनिंग, छात्रों को आरोग्य सेतु एप मोबाइल फोन में डाउनलोड करना होगा। प्रत्येक छात्र को अभिभावक का सहमति पत्र भी साथ लाना होगा। आदेश में परीक्षाओं के शुरू किए जाने का भी उल्लेख किया गया है। इसके तहत एमबीबीएस 2016 बैच फाइनल प्रोफेशनल पार्ट-2 की परीक्षाएं अगले साल मार्च या अप्रैल में कराई जाएंगी।

इसी प्रकार 2017 बैच के फाइनल प्रोफेशनल पार्ट-१ अप्रैल में तथा 2018 बैच सेकेंड प्रोफेशनल बैच की परीक्षा अगले वर्ष अप्रैल में आयोजित होंगी। इसी प्रकार से 2019 बैच प्रथम प्रोफेशनल की आने वाले फरवरी में तथा 2020 बैच की जनवरी २०२२ में प्रथम प्रोफेशनल और दिसंबर में द्वितीय प्रोफेशलन की परीक्षाएं होंगी। इसी प्रकार से 2022 से लेकर 2025 तक की आगामी परीक्षाओं का शेड्यूल भी जारी कर दिया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Winter holidays canceled in UP medical colleges examination program continues