DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  क्या यूपी में 22 मई तक लगा संपूर्ण लॉकडाउन ? जानिए वायरल हो रहे मैसेज की सच्चाई 

उत्तर प्रदेशक्या यूपी में 22 मई तक लगा संपूर्ण लॉकडाउन ? जानिए वायरल हो रहे मैसेज की सच्चाई 

लाइव हिन्दुस्तान टीम ,लखनऊPublished By: Amit Gupta
Sun, 09 May 2021 08:34 PM
क्या यूपी में 22 मई तक लगा संपूर्ण लॉकडाउन ? जानिए वायरल हो रहे मैसेज की सच्चाई 

कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए यूपी सरकार ने कोरोना कर्फ्यू को सात दिन और बढ़ा दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि प्रदेशव्यापी आंशिक कोरोना कर्फ्यू के सकारात्मक परिणाम देखने को मिल रहे हैं। ऐसे में 17 मई की सुबह 7 बजे तक आंशिक कोरोना कर्फ्यू को विस्तार दिए जाने का निर्णय लिया गया है। सीएम योगी के इस ऐलान के बाद सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो कि यूपी में 22 मई  तक संपूर्ण लॉकडाउन लग गया। 

नहीं जारी हुआ ऐसा कोई आदेश:

#InfoUPFactCheck की ओर से ट्वीट कर यह जानकारी दी गई है कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 22 मई तक लॉकडाउन लगाने का कोई आदेश नहीं जारी किया गया है। प्रदेश में 17 मई सुबह 7 बजे तक सिर्फ आंशिक कोरोना कर्फ्यू लगाया गया है। सोशल मीडिया पर प्रसारित किया जा रहा यह स्क्रीनशॉर्ट फेक है।

 

आवश्यक सेवाएं जाारी रहेंगी :

17 मई तक लॉकडाउन के दौरान टीकाकरण, औद्योगिक गतिविधियां, मेडिकल सम्बन्धी कार्य आदि आवश्यक अनिवार्य सेवाएं यथावत जारी रहेंगी। इसके अलावा प्रदेश के सभी सरकारी एवं निजी शैक्षणिक संस्थानों/कोचिंग इंस्टीट्यूट में 20 मई तक अवकाश रखा जाए। इस अवधि में कक्षाएं ऑनलाइन भी संचालित न की जाएं। मुख्यमंत्री ने ये निर्देश रविवार को टीम 9 के अधिकारियों के साथ बैठक में दिए। उन्होंने कहा कि आंशिक कोरोना कर्फ्यू के दौरान प्रदेश की जनता की ओर से भी भरपूर सहयोग प्राप्त हो रहा है। एक्टिव केस लगातार कम हो रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि ऑक्सीजन ऑडिट की प्रारंभिक रिपोर्ट के आधार पर प्रदेश में कुछ अस्पतालों में औसत से कई गुना अधिक ऑक्सीजन की खपत की पुष्टि हुई है। स्वास्थ्य विभाग, चिकित्सा शिक्षा विभाग स्तर से ऐसे अस्पतालों से समन्वय बनाते हुए खपत को संतुलित करने की कार्यवाही की जाए। 

बीते 24 घंटों में प्रदेश में साढ़े 900 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति-वितरण कराया गया है। लखनऊ, कानपुर व आसपास के जिलों के लिए ऑक्सीजन एक्सप्रेस से आपूर्ति कराई गई है। सहारनपुर, गाजियाबाद और गौतम बुद्ध नगर आदि जिलों के लिए बेहतर प्रबंध किए जा रहे हैं। वाराणसी के लिए 40 टन ऑक्सीजन शनिवार को भेजी गई है। गोरखपुर व आसपास के जिलों के लिए विशेष ट्रेन चलाये जाने की तैयारी है। 
मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि होम आइसोलेशन में उपचाराधीन कोविड मरीजों व अन्य गंभीर रोगों से ग्रस्त नॉन कोविड मरीजों के लिए ऑक्सीजन आपूर्ति कराने के समुचित प्रबंध किए जाएं। घरों में स्वास्थ्य लाभ ले रहे मरीज की कोविड पॉजिटिविटी रिपोर्ट, कोई अन्य जांच, लक्षण युक्त होने अथवा चिकित्सक का परामर्श के आधार पर तत्काल ऑक्सीजन की आपूर्ति कराई जाए।

संबंधित खबरें