ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशएसडीओ ने डांटा तो कर्मी ने 3 घंटे बंद की बिजली, हंगामा के बाद दर्ज किया गया मुकदमा 

एसडीओ ने डांटा तो कर्मी ने 3 घंटे बंद की बिजली, हंगामा के बाद दर्ज किया गया मुकदमा 

लखनऊ में संविदाकर्मी की लापरवाही के कारण चिनहट की न्यू गुलिस्ता कॉलोनी की लगभग दो हजार आबादी देर रात तीन घंटे अंधेरे में रही। लोगों के हंगामा के बाद मुकदमा दर्ज किया गया।  

एसडीओ ने डांटा तो कर्मी ने 3 घंटे बंद की बिजली, हंगामा के बाद दर्ज किया गया मुकदमा 
Deep Pandeyहिन्दुस्तान,लखनऊThu, 18 Apr 2024 09:48 AM
ऐप पर पढ़ें

लेसा के संविदाकर्मी की लापरवाही के कारण चिनहट की न्यू गुलिस्ता कॉलोनी की लगभग दो हजार आबादी मंगलवार देर रात तीन घंटे अंधेरे में रही। एबीसी केबल का फाल्ट ठीक करने गए संविदाकर्मी ने ट्रांसफार्मर से बंद कर दी। जब एसडीओ ने डांटा तो वह मोबाइल बंद करके भाग गया। बिजली न आने से लोग घरों से बाहर निकल आए और हंगामा करने लगे। बवाल बढ़ने पर जूनियर इंजीनियर, एक्सईएन मौके पर पहुंचे, जिससे रात 1.45 बजे फाल्ट को दुरुस्त कर बिजली सप्लाई बहाल कराई। विभाग ने आरोपी संविदाकर्मी के खिलाफ बुधवार को मुकदमा दर्ज कराकर उसे बर्खास्त कर दिया।

चिनहट के शिवपुरी उपकेंद्र के न्यू गुलिस्ता कॉलोनी में जाने वाली एबीसी (एरियल बंच कंडक्टर) मंगलवार की रात करीब 11.30 बजे खराब हो गई। सूचना पर एसडीओ मनोज पुष्कर ने संविदाकर्मी सुरेंद्र कुमार को टीम के साथ मौके पर भेजा। इस दौरान संविदाकर्मी ने फाल्ट ठीक करने के लिए सर्किट बंद करने की बजाए 630 केवीए ट्रांसफार्मर की बिजली सप्लाई बंद कर दी। इससे करीब दो हजार आबादी अंधेरे में डूब गई। उमस भरी गर्मी में बिजली न आने से परेशान लोग जेई, एसडीओ, एक्सईएन को फोन करने लगे। जिसके बाद एसडीओ ने संविदाकर्मी से ट्रांसफार्मर की सप्लाई बंद करने की बजाए सर्किट बंद कर बिजली के तार दुरुस्त करने को कहा, लेकिन संविदाकर्मी ने इंकार कर दिया। एसडीओ ने जमकर फटकार लगाई।

चिनहट में लोगों का भड़का गुस्सा, हंगामा
नाराज संविदाकर्मी ने बगैर बिजली आपूर्ति बहाल किए मोबाइल बंद कर मौके से फरार हो गया। वहीं बिजली न आने पर भीड़ इक्ह्वा हो गई और हंगामा करने लगे। जिसके बाद जूनियर इंजीनियर नीलेश रस्तोगी, एक्सईएन खालिद सिद्दीकी दूसरी गैंग के साथ मौके पर पहुंचे। करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद रात 1.45 बजे बिजली चालू हो सकी। अधीक्षण अभियंता यदुनाथ राम ने बतायाउसे बर्खास्त कर दिया गया।                     
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें