ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशनौकरी नहीं मिली तो सिलवा ली वर्दी, बन गया फर्जी दरोगा; ऐसे फूटा भांडा 

नौकरी नहीं मिली तो सिलवा ली वर्दी, बन गया फर्जी दरोगा; ऐसे फूटा भांडा 

Fake Sub inspector: उत्‍तर प्रदेश पुलिस ने एक फर्जी दरोगा को गिरफ्तार कर सोमवार को जेल भेज दिया। आरोप है कि उसने झूंसी की एक महिला का शस्त्र लाइसेंस बनवाने के नाम पर एक लाख रुपये लिए थे।

नौकरी नहीं मिली तो सिलवा ली वर्दी, बन गया फर्जी दरोगा; ऐसे फूटा भांडा 
Ajay Singhहिन्‍दुस्‍तान,प्रयागराजTue, 30 Apr 2024 02:00 PM
ऐप पर पढ़ें

Fake Police sub inspector arrested in Prayagraj: पुलिस ने एक फर्जी दरोगा को गिरफ्तार कर सोमवार को जेल भेज दिया। उसने झूंसी की एक महिला का शस्त्र लाइसेंस बनवाने के नाम पर एक लाख रुपये लिए थे। महिला ने झूंसी पुलिस से शिकायत की तो फर्जी दरोगा के खिलाफ मामला दर्ज कर उसकी तलाश की जा रही थी। सोमवार को एसओजी और झूंसी पुलिस ने फर्जी दरोगा को त्रिवेणीपुरम से गिरफ्तार किया।

पुलिस को इस फर्जी दरोगा के बारे में काफी समय से शिकायतें मिल रही थीं। पुलिस से रंगे हाथ पकड़ना चाहती थी जिसमें अब कामयाबी मिली है। पुलिस सूत्रों का कहना है कि ये फर्जी दरोगा कई जिलों में वर्दी का रौब गांठ कर जालसाजी कर रहा था। झूंसी देवनगर में रहने वाली एक महिला ने पुलिस को बताया कि दिलीप कुमार शुक्ला जो कि अपने आप को दरोगा बताता है, उसने शस्त्र लाइसेंस बनवाने के नाम पर उसे एक लाख 35 हजार रुपये लिए थे। पैसे वापस मांगने पर नहीं दे रहा है। 

पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच में जुट गई। जब इस बात की जानकारी आरोपी दिलीप को हुई तो वह रविवार को महिला के घर पहुंच मुकदमा वापस लेने के लिए धमकाने लगा। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ एक और मामला दर्ज कर सोमवार को एसओजी प्रभारी नगर, गंगापार व झूंसी थाना प्रभारी की सयुक्त टीम ने आरोपी दिलीप शुक्ला निवासी भदोही कोईरौना के तुल्सीपट्टी को गिरफ्तार कर उसके पास से फर्जी परिचय पत्र, पैन, बाइक बरामद किया।