DA Image
23 अक्तूबर, 2020|12:41|IST

अगली स्टोरी

यूपी की एक शादी जहां फूल नहीं दूल्हा-दुल्हन के रिश्तेदारों के बीच चले ईंट-पत्थर, वजह जानकार आप भी रह जाएंगे दंग

यूपी के लखनऊ के नटौली गांव में आयोजित एक शादी समारोह में भोजन में नमक कम होने की बात पर विवाद बढ़ गया। कहासुनी के दौरान दोनों तरफ से अचानक ईंट-पत्थर चलने लगे। खूनी संघर्ष में महिला समेत दर्जन भर लोग घायल हो गए। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया। पुलिस ने आठ आरोपियों का चालान करने के साथ ही कुल 29 लोगों को शांतिभंग में पाबंद किया है।

निगोहां के नटौली गांव में किसान कल्लू की बेटी अर्चना की सोमवार को शादी थी। रात को बारातियों के खाने के बाद गांव के लोग खाना खा रहे थे। इस दौरान गांव के ही लवकुश और शिवमंगल के बीच खाने में नमक कम होने की बात को लेकर नोकझोंक होने लगी। देखते ही देखते मामले ने तूल पकड़ लिया और दोनों पक्ष के लोग इकट्ठा हो गए। विवाद बढ़ने पर अचानक ईंट-पत्थर और लाठी-डंडे चलने लगे। 

काफी देर तक चले खूनी संघर्ष में एक दर्जन लोग घायल हो गए। एक पक्ष से कृष्णावती, आशु, आशीष, अनीता, उमेश, मनु व दूसरे गुट से लवकुश, राजकुमार, शिवकुमार, राजोले व श्याम को चोटें आई हैं। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस दोनों पक्षों के लोगों को थाने ले गयी। पुलिस ने घायलों को उपचार के लिए सीएचसी मोहनलालगंज भेजा। इंस्पेक्टर प्रेम सिंह ने बताया कि खाने में नमक कम होने पर दोनों पक्ष भिड़े थे। मारपीट में शामिल 29 लोगों को शांति भंग की धाराओं में पाबंद किया गया है। 

पुलिस की मौजूदगी में हुए फेरे:
शादी समारोह में मामूली बात पर हुए बवाल से बाराती और कन्या पक्ष दोनों सहम गए। ग्रामीणों के मुताबिक पुलिस मारपीट कर रहे 29 लोगों को पकड़ कर थाने ले गई। इस बीच घटना में शामिल कुछ लोग भागकर छुप गए थे। ऐसे में लड़की के परिवारीजनों को डर सता रहा था कि कहीं आरोपी बाद में फिर से इक्ट्ठा होकर झगड़ा न कर लें। उनकी इस चिंता को देखते हुए पुलिस बल गांव में ही टिका रहा। पुलिस की मौजूदगी में किसान की बेटी के सात फेरे हुए। सुबह बारात विदा हो गयी।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:wedding in UP where there is no flower will be brick and stone between the relatives of the bride and groom due to Tasty food was not found in the procession barat ucknow