DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › कानपुर में वायरल बुखार का कहर, अस्पतालों के वार्ड फुल, एक बेड पर दो मरीज भर्ती
उत्तर प्रदेश

कानपुर में वायरल बुखार का कहर, अस्पतालों के वार्ड फुल, एक बेड पर दो मरीज भर्ती

वरिष्ठ संवाददाता, कानपुरPublished By: Shivendra Singh
Wed, 01 Sep 2021 05:41 PM
कानपुर में वायरल बुखार का कहर, अस्पतालों के वार्ड फुल, एक बेड पर दो मरीज भर्ती

वायरल बुखार से मचे हाहाकार के बीच अस्पतालों में बेड कम पड़ गए। हैलट और उर्सला के वार्ड फुल हैं, एक बेड पर दो मरीज भर्ती हैं। बेड की कमी से मरीजों की भर्ती नहीं हो पा रही है। इमरजेंसी में 300 से अधिक मरीज वायरल फीवर के रिपोर्ट हो रहे हैं। अस्पताल प्रशासन के समझ में नहीं आ रहा क्या करें। वैकल्पिक इंतजाम किए जा रहे हैं।

सोमवार की रात से वायरल फीवर से ग्रसित गम्भीर मरीजों के आने का सिलसिला शुरू हुआ है, जो मंगलवार को और बढ़ गया। इमरजेंसी में मरीजों की संख्या ओपीडी जैसी हो गई। स्ट्रेचर, बेड औरट्राली कम पड़ गए। मरीजों को स्टेबिल कर उन्हें घर भेजा जा रहा है। हैलट के चार वार्डों की हालत यह है कि अधिकतर बेड पर दो मरीज हैं। प्रमुख अधीक्षक प्रो. आरके मौर्या का कहना है कि मरीज अधिक आ रहे हैं। मेडिसिन, न्यूरोसर्जरी और न्यूरोलॉजी के मरीज अधिक हैं। इन विभागों में बेड की दिक्कत है।

400 बेड कोरोना में फंसे हुए
अस्पताल में 400 बेड कोरोना मरीजों के लिए आरक्षित किए गए हैं। असपताल प्रशासन ने न्यूरोकोविड अस्पताल के एक फ्लोर को खोलने की तैयारी की है। इससे पूर्व अस्पताल के वार्ड को विसंक्रमित किया जाएगा। हैलट में मंगलवार को भारी भीड़ के चलते यूजर जमा काउंटर पर लम्बी लाइन लगी रही। काउंटर से ब्लड बैंक तक मरीज खड़े रहे। दरअसल रेडियोलॉजी और पैथोलॉजी दोनों के लिए महज दो काउंटर थे।

संबंधित खबरें