ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशअपने ही चाचा के घर का सामान चोरी करके बेच रहा था भतीजा, ग्रामीणों ने पेड़ से बांधकर बेरहमी पीटा

अपने ही चाचा के घर का सामान चोरी करके बेच रहा था भतीजा, ग्रामीणों ने पेड़ से बांधकर बेरहमी पीटा

रायबरेली में एक युवक अपने ही चाचा के घर से सामान चोरी करके बेच रहा था। ग्रामीणों ने उसे चोरी करते रंगे हाथों पकड़ लिया और पेड़ से बांधकर उसकी पिटाई कर दी।

अपने ही चाचा के घर का सामान चोरी करके बेच रहा था भतीजा, ग्रामीणों ने पेड़ से बांधकर बेरहमी पीटा
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,रायबरेलीSun, 21 Apr 2024 06:08 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के रायबरेली में एक युवक अपने ही चाचा के घर से सामान चोरी करके बेच रहा था। ग्रामीणों ने उसे चोरी करते रंगे हाथों पकड़ लिया और उसे पेड़ से बांधकर बेरहमी से पीट दिया। वहीं, एक ग्रामीण ने उसकी पिटाई का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया। देखते ही देखते ये वीडियो वायरल हो गया। हालांकि वायरल वीडियो की पुष्टि लाइव हिन्दुस्तान नहीं करता है। 

ये मामला सलोन क्षेत्र के पूरे झम्मन मजरे ममूनी गांव का है। रामदेव अपने परिवार के साथ पंजाब में रहते हैं। घर खाली होने के नाते उसके परिवार के ही रामकिशोर वर्मा का बेटा कुलदीप उनके घर का ताला तोड़कर कई दिनों से धीरे-धीरे उनके घर का सामान निकाल कर बेच रहा था। आसपास के लोगों को जब यह जानकारी हुई की कुलदीप अपने चाचा के घर का सामान चोरी करके बेच रहा है तो दो दिन पहले पूर्व ग्रामीणों ने उसे पकड़कर पेड़ से बांध दिया और उसकी पिटाई करनी शुरू कर दी। इसके बाद ग्रामीणों ने सूचना डायल-112 पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस उसे हिरासत में लेकर कोतवाली लेकर चली गई। उधर, ये मामला ग्रामीणों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है। 

बिस्किट चोरी पर बच्चे को खंभे से बांधकर पीटा

श्रावस्ती से भी चोरी का कुछ ऐसा ही मामला सामने आया है। जहां 11 अप्रैल की रात बिस्किट का पैकेट चोरी पर दुकानदार ने एक 10 साल के नाबालिग बच्चे को खंभे से बांधकर रातभर पीटा। जब परिजन बच्चे को छोड़ने के लिए गिड़गिड़ाने लगे तो दुकानदार ने उन्हें धक्के मारकर बाहर निकाल दिया। वहीं, किसी ने इसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाल दिया। वीडियो वायरल होने के बाद आला अधिकारियों में हड़कंप मच गया। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच पड़ताल में जुट गई।