ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशबिजली चोरी पकड़ने पहुंची टीम पर ग्रामीणों ने किया हमला, एसडीओ और जेई ने भागकर बचाई जान

बिजली चोरी पकड़ने पहुंची टीम पर ग्रामीणों ने किया हमला, एसडीओ और जेई ने भागकर बचाई जान

बरेली में मंगलवार सुबह बिजली चोरी पकड़ने पहुंची टीम को ग्रामीणों ने बुरी तरह पीट दिया। एसडीओ और जेई ने किसी तरह भागकर अपनी जान बचाई। वहीं इस मारपीट में लाइमैन और टेक्नीशियन घायल हो गया।

बिजली चोरी पकड़ने पहुंची टीम पर ग्रामीणों ने किया हमला, एसडीओ और जेई ने भागकर बचाई जान
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,बरेलीWed, 12 Jun 2024 02:53 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के बरेली में मंगलवार सुबह बिजली चोर पकड़ने गई टीम को ग्रामीणों ने बुरी तरह पीट दिया। एसडीओ और जेई ने भाग कर जान बचाई। वहीं, मारपीट में लाइनमैन और टेक्नीशियन घायल हो गया। मामले में एसडीओ ने तीन नामजद और एक अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कराया है। उधर, ग्रामीणों ने भी लाइनमैन पर केस दर्ज करने को तहरीर दी है।

ये घटना सिरौली थाना क्षेत्र के केसरपुर का है। मार्निंग रेड के तहत मंगलवार की सुबह साढ़े पांच बजे एसडीओ अनमोल कुमार के नेतृत्व में जेई हृदेश कुमार, टेक्नीशियन सचिन कुमार और लाइनमैन असलम समेत छह कर्मचारी बिजली चेकिंग को केसरपुर गांव पहुंचे थे। गांव के पप्पू और नन्हे गुप्ता के मकान पर बिजली चोरी होने के शक में टीम ने वीडियो बनानी शुरू कर दी। उस समय परिवार के सभी सदस्य सो रहे थे। लाइनमैन असलम बिजली उपकरणों की जांच के लिए घर में घुस गया। घर के सदस्यों के जाग जाने से उसकी कहासुनी शुरू हो गई। शोर सुनकर मोहल्ले वाले भी आ गए। 

ग्रामीणों ने पूरी टीम को घेर पिटाई शुरू कर दी। लाइनमैन असलम और टेक्नीशियन सचिन कुमार को चोटें आई हैं। दोनों के माफी मांगने पर ग्रामीणों ने छोड़ दिया। इस दौरान एसडीओ और जेई किसी तरह ग्रामीणों से छूटकर खुद भाग निकले। बिजली कर्मचारियों की पिटाई का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल है। इसके बाद टीम ने थाने पहुंचकर ग्रामीणों के खिलाफ तहरीर दी है। पुलिस ने शाम में प्रेमपाल, सचिव और सुदेश शर्मा को नामजद करते हुए एक अज्ञात पर एफआईआर दर्ज की है। वहीं ग्रामीण स्वामी पप्पू गुप्ता ने भी बिजली कर्मचारियों के खिलाफ घर में घुसकर मारपीट और छेड़छाड़ करने की तहरीर दी है। उनका आरोप है कि लाइनमैन चेकिंग के नाम पर परिवार की महिलाओं से छेड़छाड़ कर रहे थे। पुलिस ने ग्रामीणों की ओर से लगाए गए आरोपों को गलत बताते हुए केस दर्ज करने से इनकार कर दिया।

इस मामले में एसडीओ सिरौली अनमोल कुमार ने बताया कि केसरपुरा में बड़े पैमाने पर बिजली चोरी की सूचना थी। इसी के तहत सुबह में टीम के साथ छापेमारी की गई। ग्रामीणों ने टीम पर हमला बोल दिया। टेक्नीशियन और लाइनमैन को चोटें आई हैं। यहां तक की अभद्रता की गई है। मामले में एफआईआर दर्ज कराई गई है। वहीं, इंस्पेक्टर लव सिरोही ने बताया कि बिजली निगम और ग्रामीणों के बीच मारपीट में दोनों तरफ से तहरीर मिली है। बिजली निगम की ओर से मिली तहरीर पर चार लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है। ग्रामीणों की ओर से मिले आवेदन में लगाए गए छेड़खानी व अन्य आरोपों की जांच कराई गई। तथ्य गलत पाए गए।