ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशVIDEO: सिद्धार्थनगर में लोकसभा चुनाव की समीक्षा बैठक के दौरान भाजपा नेताओं में मारपीट, गिरा-गिराकर पीटा

VIDEO: सिद्धार्थनगर में लोकसभा चुनाव की समीक्षा बैठक के दौरान भाजपा नेताओं में मारपीट, गिरा-गिराकर पीटा

लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा को यूपी में मिली हार की रार अब मारपीट तक पहुंच गई है। सिद्धार्थनगर में शुक्रवार को ऐसा ही नजारा देखने को मिला। बैठक के दौरान जमकर लात-घूंसे चले। गिरा-गिराकर पीटा गया।

VIDEO: सिद्धार्थनगर में लोकसभा चुनाव की समीक्षा बैठक के दौरान भाजपा नेताओं में मारपीट, गिरा-गिराकर पीटा
Yogesh Yadavहिन्दुस्तान,सिद्धार्थनगरFri, 21 Jun 2024 06:14 PM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा को यूपी में मिली हार की रार अब मारपीट तक पहुंच गई है। सिद्धार्थनगर में शुक्रवार को ऐसा ही नजारा देखने को मिला। समीक्षा बैठक के दौरान दो गुटों में जमकर लात-घूंसे चले। एक पक्ष ने दूसरे पक्ष को गिरा-गिराकर पीटा। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में वर्दी पहने एक सिपाही भी दिखाई दे रहा है। सिपाही मारपीट को पहले रोकने की कोशिश भी करता है लेकिन विवाद ज्यादा बढ़ जाने पर पीछे हट जाता है। बताया जाता है कि विवाद का कारण बैठक के दौरान तब शुरू हुआ जब कुछ नेताओं की उपस्थिति पर आपत्ति जताई गई। कुछ लोगों ने कहा कि यहां साइकिल चलाने वाले क्‍यों आ गए। इसी पर दोनों पक्षों में मारपीट शुरू हुई। कहा जा रहा है कि मारपीट करने वाला एक गुट पूर्व मंत्री और पूर्व विधायक सतीश द्विवेदी और दूसरा गुट मौजूदा सांसद जगदंबिका पाल का समर्थक था।

बीजेपी के काशी क्षेत्र के महामंत्री सुशील तिवारी और मथुरा के विधायक राजेश तिवारी कार्यकर्ताओं के साथ समीक्षा बैठक करने पहुंचे थे। इसी दौरान कुछ नेताओं ने कहा कि जो लोग लोकसभा चुनाव में साइकिल चला रहे थे, वे इस बैठक में क्‍या करने आए हैं। इसी मुद्दे पर कार्यकर्ताओं में बहस शुरू हो गई है। बात बढ़ते-बढ़ते बढ़ गई। कुछ लोग वहां बीजेपी जिलाध्‍यक्ष कन्‍हैया पासवान मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे। फिर दो पक्षों में हाथापाई होने लगी। यह हाथापाई हॉल के अंदर से बाहर तक पहुंच गई। बाहर दौड़ा दौड़ा कर पीटा गया। एक युवक को तो पार्किंग में खड़ी बाइकों पर गिरा-गिराकर पीटा गया। वीडियो में दिख रहा है कि सफेद रंग का शर्ट पहने जो युवक सबसे ज्यादा उछल उछलकर मारपीट के लिए ललकार रहा था। उसकी सबसे ज्यादा पिटाई होती है। 

पूरे मामले में बीजेपी जिलाध्‍यक्ष ने अनभिज्ञता जताई है। उन्‍होंने कहा कि वह तो अंदर बैठे हुए थे। बाहर क्‍या हुआ उन्‍हें इसकी जानकारी नहीं है। बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा चल रही थी कि लोकसभा चुनाव में वोट प्रतिशत घटने का क्‍या कारण रहा। आपको बता दें कि बीजेपी की स्पेशल टीम ने सभी लोकसभा सीटों की समीक्षा शुरू कर दी है। इस समीक्षा के दौरान यह सामने आया है कि जिन लोकसभा सीटों पर बीजेपी की हार हुई है, उनमें भाजपा कार्यकर्ताओं ने स्थानीय विधायकों और प्रत्याशी बनाए गए पूर्व सांसदों के बीच विवाद को जिम्मेदार बताया है। 

कई जिलों में तो विधायकों, मंत्रियों और निवर्तमान सांसदों के बीच कार्यक्रमों और आयोजनों में भी विवाद खुलकर सामने आया है। समीक्षा करने के बाद स्पेशल टीम के कुछ सदस्यों ने अपनी रिपोर्ट पार्टी मुख्यालय को भेज दी है। कई जिलों में विधायकों, प्रत्याशियों के समर्थकों में आमने सामने ही विवाद हो गया है। सहारनपुर में एक विधायक और एक मंत्री आमने -सामने आ गए। कई जिलों में कार्यकर्ताओं ने खुलकर निवर्तमान सांसदों की शिकायत की।

Advertisement