ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी के तीन शहरों का होगा विस्‍तार, पेपर लीक पर कड़ा कानून; योगी कैबिनेट ने 43 प्रस्‍तावों पर लगाई मुहर 

यूपी के तीन शहरों का होगा विस्‍तार, पेपर लीक पर कड़ा कानून; योगी कैबिनेट ने 43 प्रस्‍तावों पर लगाई मुहर 

Yogi Adityanath Cabinet Meeting: सीएम योगी आदित्‍यनाथ की अध्‍यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में यूपी के तीन बड़े शहरों वाराणसी, प्रयागराज और गोरखपुर के विस्‍तारीकरण के प्रस्‍ताव पर मुहर लगा दी है।

यूपी के तीन शहरों का होगा विस्‍तार, पेपर लीक पर कड़ा कानून; योगी कैबिनेट ने 43 प्रस्‍तावों पर लगाई मुहर 
Ajay Singhलाइव हिन्‍दुस्‍तान  ,लखनऊTue, 25 Jun 2024 03:17 PM
ऐप पर पढ़ें

Yogi Cainet Meeting: सीएम योगी आदित्‍यनाथ की अध्‍यक्षता में मंगलवार को हुई कैबिनेट की बैठक में यूपी के तीन बड़े शहरों वाराणसी, प्रयागराज और गोरखपुर के विस्‍तारीकरण के प्रस्‍ताव पर मुहर लगा दी है। इन तीनों शहरों के विकास प्राधिकरणों में कई गांव शामिल किए जाएंगे। पेपर लीक पर काफी सख्‍त रुख अख्तियार करते हुए कैबिनेट ने इस पर सख्त कानून का प्रस्ताव पास किया। अध्यादेश में दोषियों के खिलाफ दो साल से लेकर आजीवन कारावास तक की सजा का प्रावधान है। इसके साथ ही एक करोड़ तक का जुर्माना भी लगाए जाने का भी प्रावधान है। कुल 43 प्रस्‍ताव आज कैबिनेट की बैठक में पास हुए हैं। कैबिनेट ने उत्‍तर प्रदेश आपराधिक विधि संशोधन अध्यादेश 2024 के मसौदे को मंज़ूरी दे दी है। इसके साथ ही अग्रि‍म जमानत के प्रावधान भी सख्‍त होंगे। 

कैबिनेट की बैठक में विभिन्‍न विभागों के मुल 44 प्रस्‍ताव रखे गए थे जिनमें से 43 पर मुहर लग गई। बैठक में लिए गए निर्णयों के बारे में जानकारी देते हुए कैबिनेट मंत्री जयवीर सिंह ने बताया कि वाराणसी, प्रयागराज और गोरखपुर की सीमा के विस्तार के प्रस्ताव पर मुहर लगी है। इन शहरों के विकास प्राधिकरणों में कई नए गांवों को शामिल किया जाएगा। उन्होंने बताया कि पर्यटन विभाग के सात  प्रस्तावों पर मुहर लगी है। धर्मनगरी अयोध्या में टाटा समूह के सीएसआर फंड से करीब 750 करोड़ की लागत से मंदिर संग्रहालय का निर्माण होगा। 

पर्यटन विभाग 90 साल के लिए लीज पर मुफ्त में ज़मीन देगा। शाकुंभरी देवी मंदिर के विकास का प्रस्‍ताव भी पास हुआ है। इसके लिए पर्यटन विभाग को ग्राम समाज की जमीन मिलेगी। राही पर्यटक गृह अमेठी, खुर्जा, देवा शरीफ, हरगांव को सरकार पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिर् (पीपीपी) मोड पर सरकार देगी। राही पर्यटक आवास शामली, हरगांव, सोरों, पटना पक्षी विहार एटा को भी सरकार पीपीपी मोड पर देगी। इसके अलावा लखनऊ, प्रयागराज, कपिलवस्तु में पीपीपी मोड पर हेलीपोर्ट बनेगा। रमाबाई अंबेडकर मैदान के सामने हेलीपोर्ट बनेगा। पीपीपी मोड पर हेरिटेज बिल्‍डिंग पर्यटन इकाई के तौर पर विकसित की जाएगी। इसके साथ ही कोठी रौशन उद्दौला, बरसाना, शुक्ला तालाब को भी विकसित किया जाएगा। कैबिनेट बैठक में पर्यटन क्षेत्र के विकास के लिये मुख्यमंत्री फेलोशिप योजना शुरू करने के प्रस्ताव पर भी मुहर लगी है। 

कैबिनट मीटिंग में ये अहम प्रस्‍ताव भी हुए पास 

लखनऊ , प्रयागराज , कपिलवस्तु में पीपीपी मॉडल पर हेलिपोर्ट बनाये जाने का प्रस्ताव पास हुआ। 

प्राचीन धरोहर को पीपीपी मॉडल पर रीयूज ( बरसाना जल महल मथुरा, शुक्ला तालाब कानपुर ) करने का प्रस्ताव पास हुआ। 

मुख्यमंत्री टूरिज्म फैलोशिप का प्रस्ताव कैबिनेट में हुआ पास। इसके तहत 40 हज़ार हर महीने मिलेगा।

गोरखपुर में महंत योगानंद की जन्मस्थली पर 407 वर्गमीटर जमीन पर पर्यटक स्थल बनेगा। 

पर्यटन विभाग के बंद पर्यटक गृह को पीपीपी चलाया जाएगा। राही  मुंशीगंज,खुर्जा, देवा शरीफ,  हरगांव को लीज पर दिया जाएगा।

विद्युत निरीक्षक के संबंध में नियमावली बनाई जाने का प्रस्ताव पास हुआ। 

अयोध्या कैंट एरिया में 351.40 करोड़ से सीवेज योजना बनाए जाने का प्रस्ताव पास हुआ। 

Advertisement