DA Image
Thursday, December 2, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशयूपी : सट्टेबाजी के विवाद में युवा व्यापारी की हत्या, शव बोरे में भरकर नदी में फेंका

यूपी : सट्टेबाजी के विवाद में युवा व्यापारी की हत्या, शव बोरे में भरकर नदी में फेंका

संवाददाता, अम्बेडकरनगरShivendra Singh
Sun, 14 Nov 2021 07:33 PM
यूपी : सट्टेबाजी के विवाद में युवा व्यापारी की हत्या, शव बोरे में भरकर नदी में फेंका

अम्बेडकरनगर में दो दिन पूर्व दोस्तों के साथ रात में पार्टी करने के लिए निकले नगर के शहजादपुर कस्बे के लोहा मंडी निवासी युवा व्यापारी की उसके दोस्तों ने ही हत्या कर दी और शव को बोरे में भरकर नदी में फेंक दिया। रविवार को लाश तमसा नदी में मिलने पर आक्रोशित परिजनों और व्यापारियों ने दुकानें बंद कर सड़क जाम कर दी। इसके बाद पुलिस ने हत्यारोपी चारों दोस्तों के खिलाफ नामजद हत्या का मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है। मामला क्रिकेट में सट्टेबाजी से जुड़ा बताया जा रहा है। 

लोहा मंडी निवासी शिवा कसौधन (20) 11 नवंबर की रात में घर से यह बताकर निकला था कि वह अपने दोस्तों के साथ नगर के साईं प्लाजा होटल में पार्टी करने जा रहा है। देर रात तक जब वह नहीं लौटा तो परिजनों ने इसकी सूचना रात में ही अकबरपुर कोतवाली पुलिस को दी। आरोप है कि पुलिस ने होटल तक जाने की भी जहमत नहीं उठाई। मामला बढ़ा तो पुलिस ने मामले में शिवा के चार दोस्तों के खिलाफ हत्या समेत अन्य धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर लिया है लेकिन परिजन लगातार शिवा के शव की तलाश कर रहे थे। रविवार की सुबह तमसा नदी में बोरे में बंद शिवा की लाश मिलने के बाद पूरे शहर में सनसनी फैल गई। नाराज परिजनों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया है। व्यापारियों ने अपनी दुकानें बंद कर दीं और तहसील तिराहे पर पहुंचकर सड़क जाम कर दी। डीएम और एसपी के हस्तक्षेप के बाद व्यापारी शांत हुए। डीएम ने मामले में कड़ी कार्रवाई का भरोसा दिया है।

बताया जा रहा है कि ऑनलाइन सट्टेबाजी के दौरान लेनदेन का विवाद होने के बाद दोस्तों ने शिवा की बेरहमी से हत्या कर दी। बताया जाता है कि शिवा ने अपने दोस्तों को पांच लाख रुपए दिया था। इसमें से एक लाख  40 हजार वापस हुआ था। शेष रुपये के लिए वह अपने दोस्तों पर दबाव बना रहा था। दोस्तों को यह बात नागवार गुजरी। वह बहाने से उसे ले गए और बेरहमी से कत्ल कर शव को बोरे में भरकर तमसा नदी में फेंक दिया। पुलिस ने चारों दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं परिजन और व्यापार मंडल के पदाधिकारी अकबरपुर कोतवाल और शहजादपुर चौकी इंचार्ज को सस्पेंड करने की मांग कर रहे हैं।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें