DA Image
5 दिसंबर, 2020|5:32|IST

अगली स्टोरी

यूपी: पुलिस ने भगाया तो नाराज युवक टावर पर चढ़ा, आठ दिन से दौड़ रहा था कोतवाली

शाहजहांपुर मेें मारपीट के मामले में पुलिस द्वारा 8 दिन बाद भी कार्रवाई न किए जाने से नाराज युवक मोबाइल टावर पर चढ़ गया। युवक ने जब टावर से कूदकर आत्महत्या करने की धमकी दी तो पुलिस के कान में जूं रेंगी। सीओ परमानंद पांडे व कोतवाल दीपक शुक्ला मौके पर पहुंचे और आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने का आश्वासन दिया लेकिन युवक फिर भी नहीं माना। सपा जिलाध्यक्ष तनवीर खां ने युवक को फोन पर समझाया, जिसके बाद युवक नीचे उतरा।

रविवार को नगरिया मोड़ पुलिस चौकी के सामने टावर पर गोपालपुर नगरिया गांव का रवि सिंह चढ़ गया। टावर से कूदकर उसने आत्महत्या करने की बात कहते हुए पुलिस को फोन किया। टावर पर चढ़े रवि सिंह ने बताया कि उसकी गांव में इंजन पार्ट्स की दुकान है। 8 दिन पहले गांव के रामविलास और गयादीन खेत में पानी लगाने के लिए दुकान से प्लास्टिक का पाइप किराए पर लेकर गए थे। उसका आरोप है कि रामविलास और गयादीन ने पाइप वापस नहीं किया और रुपये भी नहीं दिए। जब वह पाइप लेने उनके घर गया तो आरोपियों ने उससे मारपीट की और पाइप भी फाड़ दी।

रवि ने बताया कि उसने इसकी तहरीर पहले नगरिया मोड़ पुलिस चौकी पर दी और इसके बाद कोतवाली पुलिस को भी तहरीर दी। रवि का आरोप है कि कोतवाली पुलिस ने तहरीर नहीं ली और उसे कोतवाली से भगा दिया। रवि ने बताया कि पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। जिससे परेशान होकर वह आत्महत्या करने के लिए टावर पर चढ़ गया। सूचना पर युवक की मां राधा अन्य परिजनों के साथ टावर पर पहुंची और उसने पुत्र को नीचे उतारने के लिए काफी प्रयास किया, लेकिन युवक नहीं माना।

अपनी मां की नहीं मानी तो तुम क्या चीज हो
टावर पर चढ़े रवि को फोन करके कोतवाल दीपक शुक्ला ने टावर से नीचे उतरने की अपील की। इसके साथ ही कोतवाल दीपक शुक्ला ने आनन-फानन में रवि से मारपीट करने वाले दोनों आरोपियों को गांव में पुलिस भेजकर पकड़वाया। कोतवाल ने फोन पर रवि को आरोपियों के पकड़ने तथा उन पर कार्रवाई करने का आश्वासन भी दिया, लेकिन वह नहीं माना। सीओ परमानंद पांडे ने भी मौके पर पहुंचकर रवि को फोन कर समझाने का प्रयास किया लेकिन रवि एसपी को बुलाने की मांग करने लगा। इसके बाद कोतवाल दीपक शुक्ला ने दोबारा फोन करके रवि को नीचे आने के लिए कहा तो रवि ने कहा कि उसने अपनी मां की नहीं मानी तो तुम क्या चीज हो और उसने नीचे आने से मना कर दिया।

सपा जिलाध्यक्ष के कहने पर 3 घंटे बाद टावर से उतरा रवि
रवि जब टावर पर चढ़ा था तो वह अपने साथ अपना मोबाइल फोन भी ले गया था। टावर पर चढ़ने के बाद उसने सबसे पहले कोतवाल दीपक शुक्ला को सूचना दी। इसके बाद उसने अपने कई मिलने वालों को जानकारी दी। पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई न करने से नाराज रवि सिंह ने सपा जिलाध्यक्ष तनवीर खां को भी फोन करके पुलिस की लापरवाही की दास्तां  बताते हुए न्याय दिलाने की बात कही। रवि सिंह ने बताया कि इस पर सपा जिलाध्यक्ष तनवीर खां ने फोन पर उन्हें आश्वासन दिया कि वह पुलिस से मिलकर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई कराएंगे। रवि ने बताया कि उन्होंने टावर से नीचे उतरने के लिए कहा, तब वह बात मानकर टावर से नीचे उतरा। रवि ने चेतावनी दी कि आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो वह दोबारा कड़ा कदम उठाएगा।

सीओ परमानंद पांडे के अनुसार कोतवाल से पता लगा है कि दोनों आरोपियों को पुलिस पकड़कर लाई है और उनपर कार्रवाई की जा रही है। रवि की कोतवाली में तहरीर क्यों नहीं ली गई, कोतवाली से उसे क्यों भगाया गया इसकी जांच की जाएगी। यदि किसी पुलिसकर्मी ने रवि सिंह के साथ गलत व्यवहार किया है तो उसकी रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेजी जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:UP: When the police chased the angry young man climbed the tower Kotwali was running for eight days