ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशUP Weather: केरल में मॉनसून की आहट तो यूपी को भी मिली राहत वाली खबर, कब होगी बारिश?

UP Weather: केरल में मॉनसून की आहट तो यूपी को भी मिली राहत वाली खबर, कब होगी बारिश?

एक तरफ दक्षिण-पश्चिम मॉनसून अगले तीन-चार दिनों में केरल और पूर्वोत्तर राज्यों में पहुंचने की खबर आई है तो दूसरी तरफ प्रचंड गर्मी और ताप लहरी का सामना कर रहे उत्तर प्रदेश को राहत की खबर मिली है।

UP Weather: केरल में मॉनसून की आहट तो यूपी को भी मिली राहत वाली खबर, कब होगी बारिश?
Yogesh Yadavवार्ता,लखनऊTue, 28 May 2024 06:41 PM
ऐप पर पढ़ें

एक तरफ दक्षिण-पश्चिम मॉनसून अगले तीन-चार दिनों में केरल और पूर्वोत्तर राज्यों के कुछ हिस्सों में पहुंचने की खबर आई है तो दूसरी तरफ प्रचंड गर्मी और ताप लहरी का सामना कर रहे उत्तर प्रदेश के लोगों को दो दिन बााद राहत मिलने के आसार हैं। मौसम विभाग के अनुसार अगले दो दिनो तक मौसम में विशेष परिवर्तन के कोई आसार नहीं है हालांकि 31 मई से अगले एक दो दिन तक पश्चिमी के साथ ही पूर्वी उत्तर प्रदेश में बूंदाबादी होने का अनुमान है। मौसम आंचलिक केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक दानिश ने बताया कि पिछले 24 घंटों में आगरा राज्य का सबसे गर्म इलाका रहा जहां अधिकतम तापमान 47.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। इससे पहले वर्ष 1994 में ताज नगरी में अधिकतम तापमान 48.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया था। 

वीरंगना नगरी झांसी भी तपिश से बुरी तरह झुलसी जहां अधिकतम तापमान 48.1 डिग्री सेल्सियस रहा। जिले में इतनी गर्मी चार दशक बाद पड़ी है। वर्ष 1984 में यहां अधिकतम तापमान 48.2 डिग्री रहा था। लखनऊ में दिन का अधिकतम तापमान 44.3 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। वाराणसी में 47.8 डिग्री सेल्सियस तापमान रहा।

भीषण गर्मी के बीच यूपी के इस जिले में बारिश, इस तारीख को आ रहा मानसून

उन्होंने बताया कि तापमान में अचानक आई तेजी की वजह पश्चिमी हवाओं का चलना है। यह हालात अभी कम से कम दो दिन और रहने की संभावना है। इसके बाद गर्मी से मामूली राहत मिलने का अनुमान है। 31 मई और एक जून को गोरखपुर मंडल के कुछ इलाकों में गरज चमक के साथ बौछारें पड़ने के आसार है। 
 मौसम वैज्ञानिक ने बताया कि आमतौर पर हर साल गर्मी के मौसम में कुछ समय के लिये पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो जाता था। इससे आंधी पानी के हालात बन जाते थे लेकिन इस साल अब तक ऐसा सिस्टम सक्रिय नहीं हो सका है। इससे तापमान राज्य के अधिसंख्य इलाकों में सामान्य से ऊपर चल रहा है।

इस बीच प्रचंड गर्मी के चलते प्रदेश के अधिसंख्य इलाकों में दिन चढ़ने के साथ सड़कों पर सन्नाटा पसरा देखा जा रहा है। गर्मी के तल्ख तेवरों से वद्यिुत मांग में भी रिकार्ड बढोत्तरी हुयी है और स्थानीय गडबडियों से बिजली की लुका छिपी भी बढ गयी है। गर्मी के चलते सारा दिन बाजार और माल में सन्नाटा पसरा रहने से व्यवसायिक गतिविधियां भी शिथिल पड़ी हैं। गर्मी के मद्देनजर राज्य के अधिसंख्य इलाकों में कक्षा 12 तक के स्कूल बंद कर  दिये गये हैं।