ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशUP Weather: यूपी में कहर ढा रही प्रचंड गर्मी, टूटे कई रिकॉर्ड, 16 की मौत, कब मिलेगी राहत

UP Weather: यूपी में कहर ढा रही प्रचंड गर्मी, टूटे कई रिकॉर्ड, 16 की मौत, कब मिलेगी राहत

पूरे यूपी में गर्मी कहर ढा रही है। मंगलवार को हीट स्ट्रोक से चार जिलों में ही 16 लोगों की मौत हो गई। बुंदेलखंड के झांसी में पारा 49 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। हालांकि 31 मई से राहत मिलेगी।

UP Weather: यूपी में कहर ढा रही प्रचंड गर्मी, टूटे कई रिकॉर्ड, 16 की मौत, कब मिलेगी राहत
Yogesh Yadavहिन्दुस्तान,लखनऊWed, 29 May 2024 12:13 AM
ऐप पर पढ़ें

उत्तर प्रदेश में चल रही प्रचंड ग्रीष्म लहर कई रिकॉर्ड तोड़ रही है। वाराणसी में 140 और झांसी में अब तक के सभी रिकॉर्ड टूट गए हैं। आगरा में चार दशक का रिकॉर्ड टूट गया। बुंदेलखंड और मध्य यूपी के चार जिलों में ही हीट स्ट्रोक से 16 लोगों की मौत हो गई। इनमें कानपुर में आठ, महोबा में पांच, हमीरपुर में दो और कानपुर देहात में एक मौत की खबर है। बांदा में गर्मी की वजह से मछलियों के मरने की सूचना भी है। हालांकि राहत आयुक्त कार्यालय ने गर्मी से हुई इन मौतों की जानकारी होने से इनकार किया है। इन सभी के बीच राहत की बात यह है कि 31 मई से आंधी बारिश की भविष्यवाणी मौसम विभाग ने की है। इससे गर्मी से राहत मिलेगी।

स्वास्थ्य विभाग के विजिलेंस अफसर डा.विकासेन्दु अग्रवाल का कहना है कि इस बारे में सभी सीएमओ से रिपोर्ट ली जा रही है। कानपुर के सीएमओ ने कुछ मौतों की जानकारी दी है मगर वह किन कारणों से हुई हैं, यह स्पष्ट नहीं हो सका है। उधर, आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक अतुल कुमार सिंह के अनुसार मंगलवार को झांसी और आगरा में दिन के तापमान ने पिछले सारे रिकार्ड तोड़ दिए। झांसी में सन 1892 से मौसम विभाग की आब्जरवेटरी है और तब से अब तक के संकलित आंकड़ों के अनुसार झांसी में कभी भी किसी भी महीने में 49 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज नहीं हुआ, मंगलवार को झांसी में ऊपर चढ़ते पारे ने इस खतरनाक बिन्दु को छू लिया। 

उन्होंने बताया कि आगरा में वर्ष 1977 से मौसम विभाग की आब्जरवेटरी है और वहां तब से अब तक संकलित आंकड़ों के अनुसार 48.6 डिग्री सेल्सियस तापमान जो मंगलवार को दर्ज किया गया, इससे पहले कभी भी किसी महीने में दर्ज नहीं हुआ। हमीरपुर में मंगलवार को 48.2 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज हुआ।

मौसम विभाग के अनुसार हमीरपुर में मई में अब तक कभी भी पारा इतना ऊपर नहीं चढ़ा। इनके अलावा मथुरा-वृंदावन में 48.6, फतेहपुर में 48 गौतमबुद्धनगर में 47.3, वाराणसी में 47.6 भदोही में 47.2, चंदौली में 47, सोनभद्र के तिसूही में 48 डिग्री सेल्सियस पर दिन का तापमान दर्ज हुआ। चुर्क में 46.2 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया।

अतुल कुमार सिंह ने बताया कि बुधवार के बाद पूरे प्रदेश में मौसम बदलना शुरू होगा और दिन के चढ़ते हुए तापमान में गिरावट भी शुरू होगी। इससे जनजीवन को राहत मिलेगी। मौसम विभाग ने बुधवार 29 मई को प्रदेश में प्रचंड ग्रीष्म लहर का रेड अलर्ट जारी किया है। बुधवार को पश्चिमी उत्तर प्रदेश में प्रचण्ड ग्रीष्म लहर के साथ लू का प्रकोप बना रहेगा। पूर्वी उत्तर प्रदेश में भी एक या दो स्थानों पर ऐसा ही मौसम रहने के आसार हैं। कुछ स्थानों पर रात भी गर्म रहेगी।

30 मई के लिए आरेंज अलर्ट जारी हुआ है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कुछ स्थानों पर ग्रीष्म लहर और पूर्वी यूपी में एक या दो स्थानों पर ऐसा ही मौसम रहने के आसार हैं। 31 मई और एक जून के लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है। पश्चिमी यूपी में एक या दो स्थानों पर ग्रीष्म लहर का प्रकोप रहेगा जबकि पूर्वी यूपी में गरज चमक के साथ बिजली गिरने की आशंका है। दो जून को पूर्वी उत्तर प्रदेश में बारिश होने या गरज चमक के साथ बौछारें पड़ने का अनुमान जताया गया है।

वाराणसी में टूटा 140 वर्षों का रिकॉर्ड

बनारस में मंगलवार को गर्मी ने पिछले 140 का रिकॉर्ड तोड़ दिया। अधिकतम तापमान 47.6 डिग्री सेल्सियस पर जा पहुंचा। यह सामान्य से 6.9 डिग्री अधिक था। तापमान की दृष्टि से बनारस प्रदेश में चौथा सबसे गर्म शहर रहा। वहीं, न्यूनतम तापमान भी रिकार्ड बनाता दिख रहा है। मंगलवार को यह 30.2 डिग्री रहा। इस नाते रात को भी प्रचंड गर्मी से राहत नहीं मिली। मौसम विभाग के अनुसार, फिलहाल दो दिनों तक गर्मी का तेवर यूं ही बना रहेगा। 

लखनऊ मौसम विभाग के वैज्ञानिक मो. दानिश ने बताया कि बीएचयू में 1884 से मौसम के आंकड़े दर्ज होते रहे हैं। उसके अनुसार 18 मई 1884 को अधिकतम तापमान 47.2 डिग्री दर्ज हुआ था। उसके 140 वर्षों के बाद मंगलवार को 47.6 डिग्री सेल्सियस तापमान का नया रिकॉर्ड दर्ज हुआ। वहीं, बाबतपुर स्थित मौसम विभाग के कार्यालय के अनुसार मंगलवार की गर्मी ने 26 वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ा है। इसके पहल 23 मई 1998 को अधिकतम तापमान 46.8 दर्ज हुआ था।