ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशUP Weather: यूपी के इन जिलों में आज भारी बारिश के आसार, कहीं तेज हवाएं चलेंगी कहीं गिर सकती है बिजली 

UP Weather: यूपी के इन जिलों में आज भारी बारिश के आसार, कहीं तेज हवाएं चलेंगी कहीं गिर सकती है बिजली 

मौसम विज्ञानियों ने आज यूपी के कई जिलों में भारी बारिश की भविष्‍यवाणी की है। ये जिले मुख्‍यत: पूर्वी उत्तर प्रदेश के हैं। वहीं मध्‍य यूपी में तेज हवाएं चलने के साथ हल्‍की से मध्‍यम बारिश हो सकती है।

UP Weather: यूपी के इन जिलों में आज भारी बारिश के आसार, कहीं तेज हवाएं चलेंगी कहीं गिर सकती है बिजली 
Ajay Singhहिंदुस्‍तान,लखनऊTue, 03 Oct 2023 07:34 AM
ऐप पर पढ़ें

UP Weather Update: यूपी के कई जिलों में आज भारी बारिश के आसार हैं। ये जिले मुख्‍यत: पूर्वी उत्तर प्रदेश के हैं। वहीं मध्‍य यूपी में अगले 24 घंटों में तेज हवाएं चलने के साथ हल्‍की से मध्‍यम बारिश हो सकती है। पूर्वी यूपी के कुछ इलाकों में गरज-चमक के साथ बारिश होने की संभावना है। बिजली भी गिर सकती है। 

हालांकि वेस्‍ट यूपी में मौसम साफ रह सकता है। मौसम विज्ञानियों ने जिन जिलों में भारी बारिश की आशंका जताई है उनमें वाराणसी, सोनभद्र, चंदौली, गाजीपुर और मिर्जापुर शामिल हैं। बंगाल की खाड़ी पर बने कम दबाव के कारण चक्रवाती हवाओं के साथ सोमवार को कानपुर में तेज बारिश हुई। 60-70 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चलीं। शहर के कुछ क्षेत्रों में तेज बारिश भी हुई। सीएसए में शाम छह बजे तक 15.3 मिमी बारिश दर्ज हो चुकी थी। मौसम विभाग का कहना है कि अगले 24 घंटों में तेज हवाएं चलेंगी और हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

मानसून सीजन खत्म होने के बाद अक्टूबर की यह पहली बारिश है। इससे पहले 20 सितंबर को 21.4 मिमी बारिश दर्ज की गई थी। बंगाल की खाड़ी में एक सिस्टम बन रहा था लेकिन उसका स्थान बदल जाने से उत्तर प्रदेश के बीच के हिस्से में बारिश का माहौल बन गया। रात में अचानक घने बादल छा गए जिससे मौसम गर्म हो गया। पर सुबह होते ही मौसम में तेजी से बदलाव हो गया।

सुबह दस बजे के बाद से शहर के अलग-अलग इलाकों में कहीं बूंदाबांदी तो कहीं तेज बारिश होने लगी। 11 बजे के बाद तूफानी हवाएं चलने लगीं। इस बीच बारिश जारी रही। शहर के दक्षिण और उत्तरी क्षेत्र में तेज बारिश हुई लेकिन बीच के हिस्से में हल्की बरसात हुई। घने बादलों के कारण तापमान में भी कमी आई। अधिकतम तापमान 34.2 और न्यूनतम 24.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। सीएसए के मौसम विज्ञानी डॉ. एसएन सुनील पांडेय ने बताया कि दक्षिण-पश्चिम मानसून की वापसी शुरू हो चुकी है।

वाराणसी में सुबह से देर रात तक पड़ीं फुहारें, आज भी नहीं टलेंगे बादल
वहीं, विदाई वेला में काशी में मानसूनी बादलों ने पहली बार सोमवार को सावनी माहौल बनाया। सुबह से देर रात तक पड़ी फुहारों के चलते अधिकतम तापमान में छह डिग्री की कमी आई। इसके चलते दिन में एसी-कूलर चलाने की जरूरत नहीं पड़ी।

वहीं, न्यूनतम तापमान में कोई बदलाव नहीं हुआ है। इससे बादलों के अभी जमे रहने व बारिश होने का संकेत है। मौसम विभाग ने भी अभी दो दिनों तक रिमझिम जारी रहने की संभावना जताई है। इस वर्ष दो महीने के सावन के बाद भादो में भी कुछ ही दिन अच्छी बारिश हुई। दिनभर बादल घिरे रहने और लगातार वर्षा का आनंद सोमवार को मिला। अलसुबह शुरू हुई वर्षा दोपहर 12 बजे के आसपास कुछ मिनट के लिए रूकी, उसके बाद चलती रही।10.5 मिमी वर्षा दर्ज की गई। सोमवार को अधिकतम तापमान 28 डिग्री और न्यूनतम तापमान 24.8 डिग्री सेल्सियस रहा। रविवार की तुलना में सोमवार को अधिकतम तापमान में छह डिग्री की कमी दर्ज की गई।

गोरखपुर में सात डिग्री लुढ़का पारा
पूर्वी यूपी में चक्रवाती सिस्टम बना हुआ है। गोरखपुर में सोमवार को दिनभर काले घने बादल छाए रहे। हल्की बूंदाबांदी हुई। इसके कारण पिछले 24 घंटे में दिन का तापमान सात डिग्री सेल्सियस नीचे लुढ़क गया। मौसम विभाग के मुताबिक अगले दो दिन रिमझिम फुहार के साथ मौसम सुहाना बना रहेगा। सोमवार की सुबह से ही रुक-रुककर रिमझिम फुहारे गिरती रहीं। रविवार को दिन का अधिकतम तापमान 35.2 डिग्री रहा था। बादलों की मौजूदगी के कारण 24 घंटे में तापमान में सात डिग्री की गिरावट हुई। सोमवार को दिन का तापमान 28.5 डिग्री रिकॉर्ड किया गया जो सामान्य से चार डिग्री कम है। मौसम विशेषज्ञ केसी पांडेय ने बताया कि चक्रवाती सिस्टम के कारण बादल छाए हुए हैं।

मऊ में रुक-रुक कर हुई बारिश से मौसम सुहाना
मऊ में सोमवार को पूरे दिन रुक-रुक रिमझिम बारिश होने के कारण मौसम काफी सुहाना बना रहा। बारिश के चलते पिछले कई दिनों से पड़ रही भीषण गर्मी और उमस से लोगों को काफी राहत मिली। सोमवार अपराह्न बाद तक रुक-रुक बारिश होने के चलते लोगों को भींगते हुए जाते देखे गये। मौसम में बदलाव होने से किसानों के चेहरे खिल गए। वहीं सड़कों पर जलभराव होने से से राहगीरों दिक्कतों का सामना करना पड़ा। सोमवार को अधिकतम तापमान 31 और न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रहा।

नगर समेत ग्रामीण अंचलों में उमस व गर्मी से बेहाल लोगों को मौसम सुहाना होने के कारण काफी राहत मिली। सोमवार को सुबह की शुरुआत आकाश में काले बादलों के साथ हुआ। इसके साथ अपरान्ह बाद तक लगातार रुक-रुक बारिश होने का सिलसिला चलता रहा। रुक-रुक बारिश होने के कारण लोग काफी आनंदित महसूस कर रहे थे। रिमझिम बारिश के बीच लोग भींगते हुए दिखाई दिए। दिन भर मौसम सुहावना होने के चलते लोगों को काफी मस्ती करते हुए देखा गया। सोमवार को जिले का अधिकतम तापमान 31 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रहा। जबकि 15 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलती रही।

बारिश से धान में आई जान, खुश हुए किसान
बारिश से धान के सूख रहे पौधों में जान आ गई है। तेज बारिश की प्रबल जरूरत किसान जता रहे थे और सोमवार को मौसम की अनुकूलताएं संजीवनी साबित हुईं। कुल मिलाकर सूखने की कगार पर आ चुके धान के पौधों में जान आ जाने से किसानों में खुशी दिखी। तेज धूप और उमस से धान फसल में रोग दिखने भी लगा था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें