ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशUP Weather: पूरे दिन छाए रहे बादल, आज से चार दिन गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी के आसार; तीन दिसंबर से पड़ेगा कोहरा

UP Weather: पूरे दिन छाए रहे बादल, आज से चार दिन गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी के आसार; तीन दिसंबर से पड़ेगा कोहरा

मौसम में उलटफेर का दौर बना हुआ है। सोमवार को जहां पूरे दिन बादल छाए रहे वहीं मंगलवार को बादलों की ओट से बीच-बीच में सूरज के दर्शन हुए। मंगलवार को दिन के तापमान में तीन डिग्री का उछाल देखा गया।

UP Weather: पूरे दिन छाए रहे बादल, आज से चार दिन गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी के आसार; तीन दिसंबर से पड़ेगा कोहरा
Ajay Singhप्रमुख संवाददाता,प्रयागराजWed, 29 Nov 2023 07:09 AM
ऐप पर पढ़ें

UP Weather: यूपी में मौसम में उलटफेर का दौर बना हुआ है। सोमवार को जहां पूरे दिन बादल छाए रहे वहीं मंगलवार को बादलों की ओट से बीच-बीच में सूरज के दर्शन हुए। इसका नतीजा रहा कि सोमवार की तुलना में मंगलवार को दिन के तापमान में तीन डिग्री का उछाल देखा गया। मंगलवार को अधिकतम तापमान 25.3 रिकॉर्ड किया गया जबकि सोमवार को दिन का तापमान 22.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। वहीं दूसरी ओर बादल छाए रहने के कारण रात के तापमान में दो दिन से लगातार वृद्धि हो रही है।

सोमवार को रात का या न्यूनतम तापमान 15.4 था जो मंगलवार को 15.6 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया जबकि रविवार को रात का तापमान 11.4 डिग्री था। इलाहाबाद विश्वविद्यालय में वायुमंडलीय एवं समुद्र विज्ञान विभाग के प्रो. सुनीत द्विवेदी के अनुसार बादल छाए रहने के कारण पृथ्वी से आसमान की ओर जाने वाली लांग वेव तरंगें बादलों से टकराकर लौट आती हैं। इसके चलते तापमान में कमी नहीं आने पाती। मौसम विभाग की मानें तो बुधवार से आने वाले चार दिनों तक आसमान में बादल छाए रहेंगे और गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी हो सकती है। उसके बाद तीन दिसंबर से कोहरा पड़ेगा।

रात का तापमान औसत से अधिक, दिन का कम
मौसम की बेढब चाल का नतीजा है कि रात का तापमान औसत से अधिक तो दिन का कम है। नवंबर का औसत न्यूनतम और अधिकतम तापमान क्रमश 15.2 व 30.1 डिग्री सेल्सियस रहता है। मंगलवार को यह क्रमश 15.6 व 25.3 रिकॉर्ड किया गया।

ठंड में गर्म नहीं, गुनगुने पानी से नहाना ही अच्छा
सर्दी के इस मौसम में सेहत के साथ त्वचा का भी ध्यान रखना जरूरी है। बदलते मौसम में त्वचा की देखभाल कैसें करे इस बारे में मंगलवार को एएमए सभागार में डॉक्टरों ने मीडिया को जानकारी दी। मेडिकल कॉलेज में चर्म रोग विभाग के अध्यक्ष डॉ. अमित शेखर ने कहा कि सर्दी में त्वचा सूखी और रूखी हो जाती है। हवा में नमी कम होने से शुष्क हवा त्वचा की नमी खत्म कर देती है।

ठंड के मौसम में गर्म पानी से नहाना अच्छा लगता है लेकिन यह त्वचा के लिए नुकसानदायक है। इससे त्वचा में सूखापन बढ़ जाता है। इसलिए गुनगुने पानी से नहाना चाहिए। नहाने से पहले त्वचा में नारियल को तेल लगाना चाहिए। सर्दी में पानी की कमी न होने दें। चाय और कॉफी के अधिक सेवन से बचें। डॉ. शेखर ने बताया कि बिना डॉक्टर की राय के त्वचा पर लगाने वाली क्रीम बाजार से खरीदकर न लगाएं क्योंकि इससे त्वचा खराब हो सकती है। 

त्वचा में खुजली होती है तो भी नारियल का तेल लगाने से लाभ मिलेगा। अध्यक्षता कर रहे एएमए के अध्यक्ष डॉ. कमल सिंह ने कहा कि मधुमेह के रोगियों को त्वचा की विशेष रूप से देखभाल रखना जरूरी है। क्योंकि त्वचा में खुजलाहट होने से घाव भी हो सकता है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें