ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशUP Weather AQI Today: बारिश के आसार, नोएडा का एक्यूआई 300 के पार; जानें अपने शहर का हाल

UP Weather AQI Today: बारिश के आसार, नोएडा का एक्यूआई 300 के पार; जानें अपने शहर का हाल

UP Weather AQI Today: यूपी के कई इलाकों में बारिश के आसार हैं। बारिश के कारण तापमान में कमी आ सकती है। नोएडा, ग्रेटर नोएडा और मुजफ्फरनगर का एक्यूआई 300 के पार पहुंच गया है। जानें अपने शहर का हाल।

UP Weather AQI Today: बारिश के आसार, नोएडा का एक्यूआई 300 के पार; जानें अपने शहर का हाल
Srishti Kunjलाइव हिन्दुस्तान,लखनऊSun, 03 Dec 2023 08:05 AM
ऐप पर पढ़ें

UP Weather AQI Today: यूपी में मौसम बार-बार बिगड़ रहा है। आने वाले दिनों में भी बारिश के आसार हैं। रविवार और सोमवार को भी हल्की बारिश का अनुमान लगाया है। मौसम विभाग के मुताबिक, शनिवार को देर रात से लेकर सुबह तक घना कोहरा छाए रहने के संकेत दिए गए हैं। जबकि पश्चिमी विक्षोभ के दोबारा सक्रिय होने पर दो दिनों तक बारिश हो सकती है। रविवार और सोमवार को दिन भर बादल छाए रहेंगे। दिन में एक या दो बार बारिश हो सकती है। इसके साथ मध्यम गति की हवाएं भी चल सकती हैं। तेज बारिश के आसार नहीं हैं। 

सात डिग्री बढ़ा रात का पारा
बारिश के बाद धूप खिलने से तापमान में बढ़ोत्तरी आई है। अधिकतम तापमान सामान्य स्तर पर 26 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया है। जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से पूरे सात डिग्री अधिक होकर 16.1 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया है। आर्द्रता का अधिकतम प्रतिशत 94 रहा है।

एक्यूआई 300 के पारव
बारिश के कारण कई इलाकों के एक्यूआई में सुधार हुआ है। हालांकि अब भी ग्रेटर नोएडा, नोएडा और मुजफ्फरनगर का एक्यूआई 300 के पार दर्ज किया गया है। इन इलाकों में हवा की गुणवत्ता बहुत खराब श्रेणी में दर्ज की गई है। इनके अलावा बागपत, बुलंदशहर, गाजियाबाद और मेरठ समेत कई अन्य शहरों का एक्यूआई 200 के पार है। खराब श्रेणी में हवा के आने से इन इलाकों में भी लोगों को कई समस्याएं झेलनी पड़ रही हैं।

विशेषज्ञों के अनुसार, आसमान में बनी धूल और विषैली गैस की लेयर के कारण प्रदूषण बरकरार है। तापमान में बढ़ोतरी होने पर ही यह लेयर कम हो सकती है, तभी वायु प्रदूषण से कुछ राहत मिल सकती है। धूप न निकलने की वजह से ठंड में भी इजाफा हो सकता है। ऐसे में बच्चों, बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखने की जरूरत है। साथ ही दिल और सांस के मरीजों को भी सावधान रहने की जरूरत है।

यहां देखें रविवार को सुबह छह बजे क्‍या रहा आपके शहर का एक्‍यूआई-

शहर स्थान AQI हवा कैसी है
आगरा मनोहरपुर 99 ठीक है
  रोहता 79 ठीक है
  संजय पैलेस 176 अच्छी नहीं है
  आवास विकास कॉलोनी 100 अच्छी नहीं है
  शाहजहां गार्डेन 86 ठीक है
  शास्त्रीपुरम 124 अच्छी नहीं है
बागपत कलेक्टर ऑफिस डाटा नहीं है  
  सरदार पटेल इंटर कॉलेज 243 खराब है
बरेली सिविल लाइंस 118 अच्छी नहीं है
  राजेंद्र नगर 122 अच्छी नहीं है
बुलंदशहर यमुनापुरम 276 खराब है
फिरोजाबाद नगला भाऊ 92 ठीक है
  विभब नगर 96 ठीक है
गाजियाबाद इंदिरापुरम 265 खराब है
  लोनी 273 खराब है
  संजय नगर 242 खराब है
  वसुंधरा 277 खराब है
गोरखपुर मदन मोहन मालवीय तकनीकी विश्वविद्यालय 103 अच्छी नहीं है
ग्रेटर नोएडा नॉलेज पार्क 3 308 बहुत खराब है
  नॉलेज पार्क 5 330 बहुत खराब है
हापुड़ आनंद विहार 274 खराब है
झांसी शिवाजी नगर 109 अच्छी नहीं है
कानपुर किदवई नगर 146 अच्छी नहीं है
  आईआईटी डाटा नहीं है  
  कल्याणपुर 141 अच्छी नहीं है
  नेहरू नगर 132 अच्छी नहीं है
खुर्जा कालिंदी कुंज 112 अच्छी नहीं है
लखनऊ आंबेडकर यूनिवर्सिटी 104 अच्छी नहीं है
  सेंट्रल स्कूल 127 अच्छी नहीं है
  गोमती नगर डाटा नहीं है  
  कुकरैल 87 ठीक है
  लालबाग 241 खराब है
  तालकटोरा 151 अच्छी नहीं है
मेरठ गंगा नगर 158 अच्छी नहीं है
  जय भीम नगर 283 खराब है
  पल्लवपुरम 281 खराब है
मुरादाबाद बुद्धि विहार 99 ठीक है
  इको हर्बल पार्क 97 ठीक है
  रोजगार कार्यालय 113 अच्छी नहीं है
  जिगर कॉलोनी 95 ठीक है
  कांशीराम नगर 109 अच्छी नहीं है
  लाजपत नगर डाटा नहीं है  
  ट्रांसपोर्ट नगर 88 ठीक है
मुजफ्फरनगर नई मंडी 326 बहुत खराब है
नोएडा सेक्टर 125 300 खराब है
  सेक्टर 62 299 खराब है
  सेक्टर 1 287 खराब है
  सेक्टर 116 283 खराब है
प्रयागराज झूंसी 119 अच्छी नहीं है
  मोतीलाल नेहरू एनआईटी 78 ठीक है
  नगर निगम 98 ठीक है
वाराणसी अर्दली बाजार 62 ठीक है
  भेलपुर 89 ठीक है
  बीएचयू 46 अच्छी है
  मलदहिया डाटा नहीं है  
वृंदावन ओमेक्स इटर्निटी 110 अच्छी नहीं है
नोट- AQI के किस रेंज का आपके लिए क्या मतलब है नीचे का टेबल चेक कर लें
       
AQI का रेंज हवा का हाल स्वास्थ्य पर संभावित असर 
0-50 अच्छी है बहुत कम असर
51-100 ठीक है संवेदनशील लोगों को सांस की हल्की दिक्कत
101-200 अच्छी नहीं है फेफड़ा, दिल और अस्थमा मरीजों को सांस में दिक्कत
201-300 खराब है लंबे समय तक ऐसे वातावरण में रहने पर किसी को भी सांस में दिक्कत
301-400 बहुत खराब है लंबे समय तक ऐसे वातावरण में रहने पर सांस की बीमारी का खतरा
401-500 खतरनाक है स्वस्थ आदमी पर भी असर, पहले से बीमार हैं तो ज्यादा खतरा  
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें